Sushant Singh Case: रिया चक्रवर्ती की न्यायिक हिरासत छह अक्तूबर तक बढ़ी, अब जमानत पर सुनवाई कल

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत से जुड़े ड्रग्स मामले में अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती की जमानत याचिका को एनडीपीएस कोर्ट ने खारिज कर दिया है। विशेष एनडीपीएस कोर्ट ने रिया की न्यायिक हिरासत को छह अक्तूबर तक बढ़ा दिया है। रिया और उनके भाई शौविक चक्रवर्ती ने बॉम्बे हाईकोर्ट में जमानत याचिका दायर की थी। 

इससे पहले, 11 सितंबर को मुंबई की एक विशेष एनडीपीएस कोर्ट ने रिया, शौविक और चार अन्य की जमानत याचिका खारिज कर दी थी। वहीं, इस मामले पर कल हाईकोर्ट में अगली सुनवाई होगी।

सुशांत सिंह मामले में ड्रग्स से जुड़े तारों की जांच कर रही नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की टीम ने रिया चक्रवर्ती को आठ सितंबर को गिरफ्तार किया था। इससे पहले, उनसे कई दौर की पूछताछ हुई थी। बता दें कि अगर रिया चक्रवर्ती इस मामले में दोषी करार दी जाती हैं, तो उन्हें 10 साल जेल में गुजारने पड़ सकते हैं। 

रिया की गिरफ्तारी इस मामले में गिरफ्तार अन्य आरोपियों के बयान के आधार पर हुई थी। एनसीबी ने इस मामले में सभी आरोपियों से पूछताछ की। ड्रग्स मामले में इनकी भूमिका को लेकर रिया का सामना सुशांत के मैनेजर सैमुअल मिरांडा, उनके घर के कर्मचारी दीपेश सावंत और शौविक चक्रवर्ती से कराया गया। 

गिरफ्तारी के बाद रिया ने अदालत ने समक्ष जमानत याचिका दायर की थी, जिस पर 11 सितंबर को सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान अदालत ने कहा कि रिया को जमानत नहीं दी जा सकती है, क्योंकि वह सबूतों को नष्ट कर सकती हैं और अन्य आरोपियों को सतर्क कर सकती हैं। 

अपनी याचिका में रिया ने कहा था कि उन्हें इस मामले में फंसाया जा रहा है और वह निर्दोष हैं। बता दें कि रिया को नारकोटिक्स ड्रग्स एंड साइकोट्रॉपिक सब्सटेंस (एनडीपीएस) अधिनियम, 1985 के कई धाराओं के तहत बुक किया गया है।

बॉलीवुड अभिनेता की मौत की गुत्थी सुलझाने के लिए एनसीबी ड्रग्स मामले की जांच में जुटी हुई है। पूछताछ के दौरान एनसीबी को कई अहम सुराग हासिल हुए हैं। यही कारण है कि एनसीबी ने अब तक 17 से अधिक गिरफ्तारियां की है।

एनसीबी ने अब तक रिया के अलावा, उनके भाई शौविक चक्रवर्ती, सैमुअल मिरांडा समेत मुंबई और गोवा से कई ड्रग पेडलर्स को गिरफ्तार किया है। इस मामले की जांच एनसीबी के अलावा, सीबीआई और ईडी भी कर रही हैं।