School Reopen : 30 फीसदी छात्र पहले जाएंगे स्कूल

बिहार में ऑनलाइन क्लास नहीं करने वाले छात्रों की अब पढ़ाई शुरू हो पायेगी। इसके लिए स्कूलों ने प्रयास शुरू कर दिये हैं। ऑनलाइन क्लास नहीं करने वाले को पहले स्कूल आने का मौका दिया जायेगा। इसके लिए स्कूलों ने ऐसे छात्रों की लिस्ट तैयार करनी शुरू कर दी है। 

ज्ञात हो कि ज्यादातर स्कूलों के 30 फीसदी ऐसे विद्यार्थी हैं जो तकनीकी सुविधा नहीं होने के कारण स्कूल की ऑनलाइन कक्षा नहीं कर पाए। अब जब 21 सितंबर से स्कूल में शिक्षकों से छात्रों को मिलने की छूट दी गई है तो ऐसे में स्कूल उन छात्रों को पहले बुलायेगा, जिनकी पढ़ाई बाधित थी। इन छात्रों को बारी-बारी करके बुलाया जायेगा। एक साथ सप्ताह में एक या दो दिन आएंगे। फिलहाल यह सुविधा केवल 9वीं से 12वीं तक के छात्रों को ही मिलेगी। स्कूल के इस प्रयास से 2021 में बोर्ड परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों का सिलेबस पूरा हो पायेगा।  

कोरोना प्रभावित क्षेत्र या कंटेनमेंट जोन घोषित रहे इलाके से छात्र और शिक्षकों को अभी स्कूल नहीं बुलाया जायेगा। इसके लिए स्कूल द्वारा शिक्षक और अभिभावकों से जानकारी ली जा रही है। माउंट कार्मेल हाई स्कूल केप्राचार्य सिस्टर सेरेना ने कहा कि स्कूल को सेनेटाइज किया जा रहा है। 

विद्यार्थी और शिक्षकों के लिए गाइडलाइन जारी की गई है। इंटरनेशनल स्कूल केनिदेशक एफ हसन ने कहा कि  स्कूल में उन छात्रों को पहले मौका दिया जायेगा, जो ऑनलाइन क्लास नहीं कर पाए, क्योंकि ऐसे बच्चे पढ़ाई से बिलकुल ही अलग थे। इन छात्रों को स्कूल आने में प्राथमिकता दी जायेगी।