IPL 2020: धोनी को लेकर गंभीर का कटाक्ष, बैटिंग ऑर्डर और कप्तानी पर उठाया सवाल

टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मंगलवार को हुए मैच में बैटिंग ऑर्डर में सातवें नंबर पर आने से हैरान रह गए थे। सीएसके 217 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रहा था, ऐसे में धोनी का नंबर 7 पर बल्लेबाजी करने आना गंभीर को समझ नहीं आया। सीएसके की ओर से सैम कुर्रन, ऋतुराज गायकवाड़ और केदार जाधव क्रम से नंबर 4, 5 और 6 पर बल्लेबाजी के लिए उतरे। गंभीर का मानना है कि धोनी को बैटिंग ऑर्डर में ऊपर आना चाहिए था और फ्रंट से लीड करना चाहिए था।

ईएसपीएन क्रिकइंफो के ‘टी20 टाइम आउट’ शो में गंभीर ने कहा, ‘सच कहूं तो मैं हैरान रह गया था। एमएस धोनी नंबर पर 7 पर बल्लेबाजी करने आए? ऋतुराज गायकवाड़ और सैम कुर्रन को अपने से ऊपर भेजने का कोई तुक नहीं बनता है। आपको फ्रंट से लीड करना चाहिए था और यह जो आपने किया इसे फ्रंट से लीड करना नहीं कहते हैं। नंबर 7 पर बल्लेबाजी करना जब आप इतने बड़े लक्ष्य का पीछा कर रहे हों, खेल खत्म हो चुका था, फैफ डु प्लेसी अकेले योद्धा की तरह लड़े।’

फैफ डु प्लेसी ने 37 गेंद पर 72 रनों की पारी खेली और इस दौरान उन्होंने एक चौका और सात छक्के जड़े। धोनी ने 17 गेंद पर नॉटआउट 29 रन बनाए। टॉम कुर्रन के आखिरी ओवर में धोनी ने लगातार तीन छक्के लगाए थे, लेकिन तब तक मैच पूरी तरह से सीएसके के हाथ से फिसल चुका था। गंभीर ने इसको लेकर कहा, ‘हां, आप धोनी के आखिरी ओवर के बारे में बात कर सकते हैं, लेकिन सच कहूं तो इन रनों का कोई फायदा नहीं था। वो सिर्फ निजी रन थे। इसमें कोई बुराई नहीं अगर आप जल्दी आउट होकर पवेलियन लौट जाएं, लेकिन कम से कम फ्रंट से लीड करें और टीम को प्रेरित करने की कोशिश करें।’