पाक में सैन्य ठिकाने की मांग कर रहा था अमेरिका, मैंने नामंजूर किया: इमरान खान

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि अमेरिका देश में सैन्य ठिकाने दिए जाने की मांग कर रहा था, लेकिन मैं उनकी मांगों पर कभी सहमत नहीं हुआ। इमरान खान को पिछले महीने प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था।

इमरान खान ने कहा कि अमेरिका पाकिस्तान में सैन्य ठिकाना चाहता है ताकि वह यहां अफगानिस्तान के आतंकवादियों पर जवाबी हमले कर सके। लेकिन मैंने इसके लिए मना कर दिया। इमरान खान ने आगे कहा कि अमेरिका के नेतृत्व वाले ‘आतंक के खिलाफ युद्ध’ में पाकिस्तान के पहले ही 80,000 लोगों की जान जा चुकी है। बावजूद इसके, उनके बलिदान की कभी सराहना नहीं की गई, इसके बजाय अमेरिकी राजनेता हमें ही जिम्मेदार ठहराने लगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed