अमेरिका का सुप्रीम कोर्ट खत्म करेगा गर्भपात का अधिकार! जानकारी लीक होते ही विरोध-प्रदर्शन शुरू

वॉशिंगटन: अमेरिका में सुप्रीम कोर्ट गर्भपात के अधिकार को खत्म करने जा रही है। ये जानकारी उस लीक हुए ड्राफ्ट से हासिल हुई है जो बहुमत के विचार के आधार पर बना है। इसके प्रभाव में आने के बाद 50 साल से संविधान के ज़रिये मिली यह आज़ादी खत्म हो सकती है। पोलिटिको की एक रिपोर्ट बताती है कि जस्टिस सैमुअल अलिटो ने 98 पेज के ड्राफ्ट डॉक्यूमेंट में लिखा है कि 1973 का रो वी वेड का गर्भपात के अधिकार का फैसला बहुत गलत है। इसे शुरुआत से ही गलत बताया गया है

जस्टिस अलिटो ने कथित तौर पर यह भी लिखा है कि रो वी वेड का तर्क असाधारण रूप से कमजोर था और इसके हानिकारक परिणाम थे। कहा गया है कि गर्भपात का अधिकार राष्ट्र के इतिहास और परंपराओं में गहराई से निहित नहीं है और यह रूढ़िवादियों की राय है। पोलिटिको के मुताबिक एक लीक प्रारंभिक मसौदा बहुमत राय से पता चलता है कि अदालत ने रो बनाम वेड को उलटने के लिए मतदान किया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक जुलाई की शुरुआत में कोर्ट इस मामले पर अपना फैसला सुना सकता है।

वहीं इस रिपोर्ट के बाद विरोध-प्रदर्शन शुरू हो गए हैं। प्रदर्शनकारी लीक हुए दस्तावेज को लेकर विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं। महिलाएं ‘मेरे शरीर पर प्रतिबंध’, ‘महिलाओं के अधिकार’, ‘महिलाओं के मानवाधिकार’, ‘मेरा शरीर, मेरी पसंद’ जैस तख्तियां लेकर विरोध कर रही हैं। गर्भपात अधिकार समर्थक कोर्ट के सामने लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं।

बता दें कि गर्भपात अमेरिकी राजनीति में सबसे पेचीदा मसलों में से एक है। प्यू रिसर्च सेंटर द्वारा 2021 के एक सर्वेक्षण में पाया गया कि 59 फीसद अमेरिकी वयस्कों का मानना ​​था कि यह सभी या अधिकांश मामलों में कानूनी होना चाहिए जबकि 39 लोगों ने कहा था कि यह अधिकांश या सभी मामलों में अवैध होना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed