लीचीपुरम उत्सव 2021 का आयोजन 18 दिसंबर को किसान कार्यशाला का भी होगा आयोजन

लीचीपुरम उत्सव 2021 का आयोजन 18 दिसंबर को
किसान कार्यशाला का भी होगा आयोजन
राष्ट्रीय लीची अनुसंधान केंद्र मुजफ्फरपुर एवं राष्ट्रीय कृषि अनुसंधान केंद्र पिपरा कोठी की होगी सहभागिता
रात्रि की बजाए दिन में आयोजित होगा कार्यक्रम
मेहसी: 13 वें लीची पुरम उत्सव 2021 का आयोजन 18 दिसंबर को किया जाएगा। यह आयोजन तिरहुत उच्चतर विद्यालय मेहसी के प्रांगण में आयोजित किया जाएगा। इस कार्यक्रम में लीची की समस्या एवं बेहतर रबी उत्पादन को लेकर विस्तार से चर्चा की जाएगी। इस आयोजन में लीची अनुसंधान केंद्र मुजफ्फरपुर एवं राष्ट्रीय कृषि अनुसंधान केंद्र पिपरा कोठी के वैज्ञानिकों को भी आमंत्रित किया जा रहा है‌। इस अवसर पर भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया जा रहा है। उक्त बातें लीचीपुरम उत्सव समिति के संस्थापक संरक्षक सत्यदेव राय आर्य ने शुक्रवार को सत्याश्रम में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान कही। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के कारण पिछले वर्ष लीचीपुरम उत्सव आयोजन नहीं किया जा सका। इस वर्ष भी मई माह में कोविड के कारण ही आयोजन नहीं हो पाया। जबकि प्रतिवर्ष यह आयोजन मई माह के अंतिम सप्ताह में किया जाता रहा है। पंचायती राज चुनाव आचार संहिता के कारण 31 अक्टूबर को होने वाले कार्यक्रम की तिथि बढ़ाई गई, क्योंकि इसके लिए अनुमति नहीं मिल रही थी। 18 दिसंबर को यह कार्यक्रम दो सत्र में आयोजित किया जाएगा। प्रथम सत्र में किसान कार्यशाला 11:00 से 1:00 तक एवं दूसरा सत्र सांस्कृतिक कार्यक्रम का होगा जो एक बजे से लेकर रात्रि के 8:00 बजे तक चलेगा। श्री आर्य ने कहा कि पिछले 3 साल से मेहसी परिक्षेत्र के किसान लीची में स्टिंग बग के कारण परेशान है और यह महामारी का रूप लेती जा रही है। लीची के लिए विश्व विख्यात मेहसी में इस समस्या से निपटने के लिए कई बार वैज्ञानिक सुझाव दे चुके हैं लेकिन समस्या यथावत है। उत्सव के मंच से वैज्ञानिकों से आग्रह किया जाएगा कि मास्टर प्लान तैयार कर इस समस्या से किसानों एवं व्यवसायियों को निजात दिलाएं। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए लीची पुरम उत्सव समिति के महासचिव सुदिष्ट नारायण ठाकुर ने कहा कि सांस्कृतिक कार्यक्रम में बिहार के प्रसिद्ध कलाकारों को आमंत्रित किया जा रहा है। इसके अलावा इसमें बुद्धा वर्ल्ड स्कूल वैशाली, चंद्रशील स्कूल चकिया के अलावा मेहसी उच्च विद्यालय के छात्र छात्राओं की भी सहभागिता होगी। इस कार्यक्रम में जिला कृषि आत्मा के प्रबंध निदेशक ने आत्मा से सहायता के लिए अपनी स्वीकृति दे दी है। जिलाधिकारी शिर्षत कपिल अशोक इस कार्यक्रम को लेकर पहले भी उत्साहित कर चुके हैं। इस कार्यक्रम में उनकी भी सहभागिता के लिए समिति आग्रह कर चुकी है। इसके अलावा जिले के कई विधायक कार्यक्रम में भाग लेंगे। श्री ठाकुर ने कहा कि कार्यक्रम को लेकर तैयारी समिति गठित की जा चुकी है इस बार कार्यक्रम भव्य होगा किसान कार्यशाला में मेहसी प्रखंड के अलावा आसपास के प्रखंडों के भी किसान भाग लेंगे उन्होंने लीची के किसानों एवं व्यवसायियों से आग्रह किया कि वे किसान कार्यशाला में जरूर भाग लें और अपनी समस्याओं को रखें‌ इस कार्यशाला में 300 से ज्यादा किसानों के भाग लेने की संभावना है। लीचीपुरम उत्सव समिति के सचिव चंद्रभूषण कुशवाहा ने बताया कि कार्यक्रम को लेकर लीचीपुरम फ्रूट एग्रो प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड एक प्रमुख भूमिका में रहेगी जिसका रजिस्ट्रेशन भारत सरकार से हो चुका है। यह कंपनी आने वाले वर्षों में प्रमुख रूप से आयोजन को लेकर भूमिका निभाती रहेगी। इस कार्यक्रम में कई प्रायोजक भी अपनी सहभागिता दे रहे हैं। इस अवसर पर लीची पुरम उत्सव समिति के उपाध्यक्ष सह परतापुर के मुखिया राकेश पाठक, कोषाध्यक्ष मनोज कुमार, सचिव कृत नारायण कुशवाहा, शंकर कुशवाहा, अली इमाम कुरेशी जयंत कुमार सहित अन्य सदस्य मौजूद थे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *