जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर प्रणव कुमार की अध्यक्षता में समाहरणालय सभाकक्ष में डिस्टिक प्रोजेक्ट मोनेटरिंग ग्रुप की बैठक आहूत की गई। जिलाधिकारी ने उपस्थित विभिन्न विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया कि लंबित विकास योजनाओं के क्रियान्वयन को लेकर गंभीरता बरते। विभिन्न विभाग आपसी समन्वय के साथ कार्य करें।

राजीव रंजन की रिपोर्ट

बैठक में अखाड़ा घाट- जीरोमाइल सड़क के समीक्षा के क्रम में कार्यपालक अभियंता के द्वारा बताया गया कि उक्त पथ में सड़क चौड़ीकरण, मजबूतीकरण एवं नाला निर्माण हेतु प्राक्कलन तैयार कर विभाग में स्वीकृति हेतु प्रस्ताव भेजा गया है। विभाग से प्रस्ताव स्वीकृत होकर अभी तक प्राप्त नहीं हुआ है। निर्देश दिया गया कि विभाग से इस संबंध में समन्वय स्थापित कर प्रस्ताव स्वीकृत कराना सुनिश्चित किया जाए

गरहा-हथौड़ी पथ में पुल के अप्रोच पथ का निर्माण की समीक्षा के क्रम में डीएलओ द्वारा बताया गया कि जमीन के सत्यापन हेतु अंचलाधिकारी को भेजा गया है परंतु अभी सत्यापन होकर नहीं आया है। जिलाधिकारी ने नाराजगी प्रकट करते हुए निर्देश दिया कि अंचल अधिकारी बोचहां से स्पष्टीकरण पूछा जाए और उनका एक दिन का वेतन स्थगित किया गया।

पानी टंकी चौक मिठनपुरा चौक मुख्य सड़क में नाला सफाई एवं मरम्मती के कार्य में स्थाई अतिक्रमण हटाने की दिशा में महत्वपूर्ण निर्देश अनुमंडल पदाधिकारी और आरसीडी के कार्यपालक अभियंता को दिया गया।

हाजीपुर -सुगौली रेल परियोजना की समीक्षा के क्रम में जानकारी दी गई कि लगभग 10 जगहों पर समस्या आ रही है। इस संबंध में निरीक्षण करने का निर्देश अनुमंडल पदाधिकारी पश्चिमी को दिया गया।

बुडको द्वारा विभिन्न कार्यो की धीमी प्रगति को लेकर जिलाधिकारी द्वारा कड़ी नाराजगी प्रकट की गई एवं निर्देश दिया गया कि संबंधित कार्य का निष्पादन निर्धारित अवधि के अंदर करना सुनिश्चित किया जाए।

भगवानपुर पुल के उस पार रेवा रोड में लगभग 200 मीटर तक दोनों साइड में फ्लैक चौड़ीकरण करने का निर्देश एनएचईआई के परियोजना निदेशक को दिया गया।

जगन्नाथ मिश्रा कॉलेज के पास बूढ़ी गंडक नदी पर उच्चस्तरीय पुल के एप्रोच पथ निर्माण की समीक्षा करने के क्रम में जिला भू अर्जन पदाधिकारी द्वारा जानकारी दी गई कि उक्त भू अर्जन हेतु जमीन के मूल्यांकन की स्थलीय जांच के लिए 6 सदस्य समिति का गठन कर दिया गया है। जिलाधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया कि समिति एक सप्ताह के अंदर स्थलीय जांच कर प्रतिवेदन उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। बैठक में जानकारी दी गई कि शहर के विभिन्न हिस्सों में बिजली पोल के कारण विकासात्मक कार्य प्रभावित हो रहा है। इस पर जिलाधिकारी द्वारा सख्त नाराजगी प्रकट की गई एवं कार्यपालक अभियंता को निर्देशित किया गया कि इस संबंध में शीघ्र ही आवश्यक कार्रवाई करना सुनिश्चित की जाए।
बैठक में इसके अतिरिक्त ग्रामीण टोला संपर्क निश्चय योजना, राष्ट्रीय विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड, पथ निर्माण विभाग, बिहार राज्य पुल निर्माण निगम लिमिटेड, राष्ट्रीय उच्च पथ/ भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण से संबंधित लंबित विकासात्मक योजनाओं की समीक्षा की गई और सभी लंबित योजनाओं के क्रियान्वयन की दिशा में ठोस कार्रवाई करने का निर्देश जिलाधिकारी के द्वारा दिए गए।

बैठक में उप विकास आयुक्त आशुतोष द्विवेदी, अपर समाहर्ता राजस्व राजेश कुमार ,डीसीएलआर पूर्वी।अनुमंडल पदाधिकारी पूर्वी एवं पश्चिमी के साथ सभी तकनीकी विभागों के पदाधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed