“बाबा सोमेश्वर नाथ” की नगरी अरेराज में” आज 19 सितंबर को अनंत चतुर्दशी” की मेला में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

आज भगवान विष्णु को अनंत सूत्र बांधा जाता है,जिससे सारी बाधाओं से मिलती है मुक्ति: सत्येंद्र मिश्रा ज्योतिषाचार्य

डी एन कुशवाहा

अरेराज पूर्वी चंपारण-
19 सितंबर 2021 दिन रविवार को अनंत चतुर्दशी पर बप्पा अगले साल फिर आने की कामना के साथ विदाई लेंगे। वहीं इस दिन भगवान विष्णु की पूजा का विशेष महत्व है। वैसे तो ये दिन मंगलकारी होता है, लेकिन इस बार अनंत चतुर्दशी पर मंगल बुधादित्य योग बन रहा है। जिसकी वजह से व्रत और पूजा करने वाले भक्तों के लिए ये दिन अत्यंत फलदायी होगा। अनंत चौदस पर जहां गणपति बप्पा की विदाई होती है, वहीं इस दिन भक्त उपवास रखकर भगवान विष्णु के अनंत रूप की पूजा भी करते हैं। भगवान विष्णु को अनंत सूत्र बांधा जाता है, जिससे सारी बाधाओं से मुक्ति मिलती है। अनंतसूत्र कपड़े या रेशम का बना होता है और इसमें 14 गांठ लगी होती हैं। उक्त बातें प्रेस वार्ता के दौरान रामगढ़वा विरता टोला गांव निवासी व मशहूर ज्योतिषाचार्य सत्येंद्र मिश्रा ने कही। साथ ही उन्होंने बताया कि अनंत चतुर्दशी पर इस बार मंगल, बुध और सूर्य एक साथ कन्या राशि में विराजमान रहेंगे, जिसकी वजह से मंगल बुधादित्य योग बन रहा है। इस योग में की गई पूजा अर्चना का महालाभ मिलता है।
उन्होंने कहा कि अनंत चतुर्दशी पर पूजन के लिए शुभ मुहूर्त 19 सितंबर 2021 सुबह 6.07 मिनट से शुरू होगा, जो अगले दिन 20 सितंबर को सुबह 5.30 बजे तक रहेगा। उन्होंने कहा कि एक धागे को कुमकुम, केसर और हल्दी से रंगकर अनंत सूत्र बनाएं, इसमें चौदह गांठें लगी होनी चाहिए। इस सूत्रों को भगवान विष्णु की तस्वीर के सामने रखें। उसके बाद भगवान विष्णु और अनंत सूत्र की पूजा करें और ‘अनंत संसार महासुमद्रे मग्रं समभ्युद्धर वासुदेव। अनंतरूपे विनियोजयस्व ह्रानंतसूत्राय नमो नमस्ते।।’ मंत्र का जाप करें। इसके बाद अनंत सूत्र को बाजू में बांध लें। इस सूत्र को धारण करने से संकटों का नाश होता है।
ज्ञात हो कि “बाबा सोमेश्वर नाथ” की नगरी में” अनंत चतुर्दशी “तक चलने वाले मेला में इस साल अरेराज पुराना गंडक परिसर,प्रखंड कार्यालय,हाई स्कूल,पुराना धर्मशाला सहित अन्य क्षेत्रों में लगभग 20 हज़ार से ज़्यादा श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी है। ‘नगर पंचायत’ के सफ़ाई कर्मियों द्वारा पूरे तन्मयता के साथ सफ़ाई की जा रही है, – हनुमान मंदिर,बरवाँ मोड़ तक मजबूत बाँस की कतार लगी है। बड़े वाहनों का प्रवेश वर्जित कर दिया गया है–अनुमंडल पदाधिकारी द्वारा पूरी मुस्तैदी के साथ निरीक्षण किया जा रहा है। टी ओ पी प्रभारी की गस्ती गाड़ी लगातार गश्ती करते हुए देखी जा रही है। प्रकाश की समुचित व्यवस्था से खजुरिया के आगे तक कान्वरीयों को अपनी यात्रा को सुगम बना दिया है।”सनातन ब्राह्मण सेवा केन्द्र”,”नवयुवक सेवा केन्द्र”,”व्यवसायिक संगठन” की ओर से भर पेट भोजन की व्यवस्था की गई है।,”पियूष सेवाश्रम-खजुरिया” के द्वारा रात्रि विश्राम हेतू पंडाल और वाहन पार्किंग की व्यवस्था के साथ दवा,फल और गर्म पानी की व्यवस्था की गई है। सबसे बड़ी बात यह है कि ‘बहादुरपुर’ ग्राम पंचायत के समिति सदस्य ‘अतीक राय’ और उनकी पत्नी, शायदा खातुन ‘के द्वारा सेवा की जा रही है जो निश्चित रूप से सेवा की परिभाषा को अलग तरीके से स्थापित किया है!! साथ ही संस्था के सर्वश्री कान्ति ठाकुर,इन्जीनियर सुनील पांडेय,पन्नालाल भगत,चंद्रशेखर कुमार,सुदेश ठाकुर,संतोष कुमार,रामविनय कुमार,विनय कुमार सहित युवा पीढ़ी के संवाहक हरिओम कुमार का उद्घोषक की भूमिका इसे अपने लक्ष्य प्राप्ति के लिए बहुत बड़ी भूमिका निभाने में सफल रहा है !!कई भक्तों की बातचीत के आधार पर एक बात महसूस किया जा सकता है कि कोरोना,महंगाई और बाढ़ के चलते लोगों की संख्या कम होने की आशंका है?? लेकिन इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता है कि –अब छोटे छोटे गाड़ियों से लोग आते हैं जो वास्तविक स्थिति का पता लगाने में पूरी तरह से सहायक नहीं होता है?? फिर भी 03 लाख तक तो आकड़ा हो जाएगा !! अन्त में “बाबा सोमेश्वर महादेव मंदिर में भव्य श्रिंगार” को सैकड़ों भक्तों ने लाईव देखा जो कई जन्मों का पुण्य का सुफल है—अरेराज की सडकों पर सुरक्षा के लिए बहुत बढ़िया व्यवस्था की गई है –जो निसन्देह स्थानीय प्रशासन और नगर पंचायत के साथ मन्दिर प्रशासन की संयुक्त मेहनत और समर्पण का ही परिणाम है कल की सुबह निर्णायक भूमिका तय करेगा !!
उक्त आशय की जानकारी अरेराज के समाजसेवी, रंगकर्मी व साहित्यकार विजय अमित ने दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed