रक्सौल एसडीएम ने ऐतिहासिक धरोहर के रूप में चर्चित आदापुर पोखरा के सौंदर्यीकरण कार्य का किया निरीक्षण l

डी एन कुशवाहा

रक्सौल पूर्वी चंपारण-रक्सौल अनुमंडल अंतर्गत आदापुर प्रखंड के ऐतिहासिक धरोहर के रूप में चर्चित आदापुर पोखरा के सौंदर्यीकरण कार्य का निरीक्षण बुधवार को रक्सौल एसडीएम सुश्री आरती ने किया। इस दौरान पोखरा के किनारे निर्माणाधीन सौंदर्यीकरण कार्य के दौरान बने चबूतरा, बेंच, शेड, पोखरीघाट व ढलाई सड़क आदि की गहनता पूर्वक निरीक्षण करते हुए एसडीएम ने इसकी रिपोर्ट जिला मुख्याल को देने की बात कही। वहीं पोखरा किनारे वृहत पैमाने पर अवैध रूप से व्याप्त अतिक्रमण को देख एवं मौके मौजूद स्थानीय ग्रामीणों की शिकायत को एसडीएम ने गंभीरता से लेते हुए सीओ संजय कुमार झा को सख्ती से सरकारी भूमि को अतिशीघ्र अतिक्रमणमुक्त कराने का निर्देश दिया। एसडीओ के निरीक्षण के बाद वहां के लोगों में यह आस जरूर जगी कि पोखरा के किनारे स्थित सरकारी व सैरात की भूमि पर अवैध रूप से बने सैकड़ों की संख्या में घरों को तोड़कर प्रशासनिक स्तर पर जरूर अतिक्रमणमुक्त किया जाएगा। गौरतलब हो कि जलवायु परिवर्तन व पर्यावरण सुरक्षा की महता को केंद्रित कर सरकार द्वारा लागू की गई अतिमहत्वपूर्ण मिशन जल-जीवन हरियाली योजना को स्थानीय क्षेत्र में पलीता लगते दिख रहा है। नतीजतन आयदिन पारंपरिक जलश्रोतों, आहर, पइन, कुंआ तथा तालाबों आदि पर अतिक्रमणकारियों का कब्जा करना जारी है। 
इतना ही नही पर्यवारण व मानव जीवन को सुरक्षित रखने के उद्देश्य से सरकारी भूखंडों पर लगाए गए पेंड़-पौधों की देखभाल करने की बजाए वहां के लोगों के अलावा समाज के तथा कथित दबंगों के द्वारा सरकारी भूखंड को भी हड़पने की नियत से व्यापक पैमाने पर तालाबों व गढ़ों आदि को भरकर अतिक्रमण करने का सिलसिला लगातार जारी है। वहीं कोई ठोस कार्रवाई नहीं होने के कारण अतिक्रमणकारियों का मनोबल बढ़ता जा रहा है। विदित हो कि ऐतिहासिक आदापुर पोखरा के किनारे स्थित बेतिया राज व सैरात की भूमि हो या बेलदारवा बाजार स्थित ब्रह्मस्थान परिसर की पोखर हो सभी जगह दिन दहाड़े तथा कथित चिन्हित अतिक्रमणकारियों के द्वारा सरकारी भूमि हड़पने का कार्य अब भी जारी है। ऐसे में सरकारी नियमों को ताक पर रख अधिकारियों द्वारा कई बार दी गई चेतावनी व नोटिस को भी को ठेंगा दिखाते हुए अतिक्रमणकारी उक्त सरकारी भूखंड को हड़पने में कामयाब हो रहें हैं। इस बाबत सीओ संजय कुमार झा ने बताया कि सरकारी भूखंड पर अवैध रूप से बने घरों को तोड़कर अवैध रूप से किए गए कब्जे वाले जमीन को हर हाल में खाली कराया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed