Published On: Tue, May 22nd, 2018

निपाह वायरस को लेकर सरकार की अपील, अफवाहों पर न दें ध्यान

 

केंद्र सरकार ने केरल में निपाह विषाणु के प्रभाव को नियंत्रण में बताया और लोगों से सोशल मीडिया में चल रही अटकलों तथा अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील करते हुए कहा कि इससे दहशत में आने की जरुरत नहीं है।
PunjabKesari
केंद्रीय परिवार एवं स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा ने आज यहां निपाह से निपटने के उपायों पर एक समीक्षा बैठक के बाद यह टिप्पणी की। बैठक में केरल में सामने आए निपाह वायरस के मामलों और इनमें हुई मौतों के संंबंधों में विस्तृत रुप से चर्चा की गई। बैठक में मंत्रालय की सचिव प्रीति सूदन और भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के महानिदेशक बलराम भार्गव के अलावा अन्य वरिष्ठ अधिकारी तथा केरल सरकार के उच्च अधिकारी मौजूद थे।
PunjabKesari
जांच के लिए भेजे गए चमगादड़ों के 60 नमूने 
नड्डा ने संबंधित अधिकारियों को निपाह से बचाव के लिए केरल सरकार को हर संभव सहयोग और मदद उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। इससे पहले केंद्रीय मंत्री के निर्देश पर वरिष्ठ तथा विशेषज्ञ चिकित्सकों का एक दल केरल भेजा गया है। केंद्रीय चिकित्सकों के दल ने कई स्थानों का दौरा किया है और कुछ पीड़ित  परिवारों के आवास को भी देखा है। इन आवासों से पकड़े गए चमगादड़ों के 60 नमूने जांच के लिए प्रयोगशाला भेजे गए हैं। दो मामलों में निपाह विषाणु की पुष्टि हुई है।
PunjabKesari
अस्पतालों में बनाए गए एकांत वार्ड 
केंद्र सरकार ने कोझिकोड में बीमारी के प्रभाव का आकलन करने के लिए चिकित्सकों और विशेषज्ञों का एक दल भेजा है। अभी तक सात पीड़ितों को कोझिकोड और एर्नाकुलम के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। अस्पतालों को मरीजों का इलाज करने तथा नमूने की जांच करने में संबंधित नियमों का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए गए हैं। अस्पतालों में दवाईयों, टीकों और उपकरणों की सुनिश्चितता की गई है और चिकित्साकर्मियों को उच्च स्तर के बचाव उपकरण उपलब्ध कराए गए हैं। अस्पतालों में एकांत वार्ड बनाए गए हैं। निपाह से पीड़ित लोगों के इलाज के लिए निजी अस्पतालों को भी मदद दी जा रही है।

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Loading...