Published On: Fri, May 18th, 2018

हाफिज सईद की गिरफ्तारी के लिए हमने ईनाम रखा और वो पाक में खुलेआम घूम रहा: अमेरिका

अमेरिका ने 26/11 मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद की गिरफ्तारी नहीं होने पर चिंता जाहिर की। शुक्रवार को अमेरिकी विदेश विभाग ने कहा कि हमारी सरकार ने जमात-उद-दावा के सरगना के सिर पर ईनाम रखा है और वह पाकिस्तान में खुलेआम घूम रहा है। यह अमेरिका के लिए गंभीर चिंता का कारण है। विदेश विभाग की प्रवक्ता हेथर नुअर्ट ने यह बात मुंबई हमले पर पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के बयान पर पूछे गए सवाल पर कही। पिछले दिनों शरीफ ने पहली बार एक इंटरव्यू में कबूला कि मुंबई हमले में पाकिस्तानी आतंकियों का हाथ था।

मोदी सरकार से अमेरिका के रिश्ते गहरे

  • अमेरिकी सरकार की प्रवक्ता ने कहा, ”मोदी सरकार के साथ हमारे बहुत गहरे संबंध हैं। भारतीय विदेश विभाग के सभी लोगों के साथ भी रिश्ते अच्छे हैं। वह (हाफिज सईद) पाकिस्तान में खुलेआम घूम रहा है। यह अमेरिका के लिए गंभीर चिंता का विषय है। हमारी सरकार ने उसकी गिरफ्तारी के लिए ईनाम रखा है।”

पाकिस्तान में अभी भी आतंकी संगठन सक्रिय: शरीफ

  • 12 मई को पाकिस्तानी अखबार डॉन को दिए इंटरव्यू में नवाज शरीफ ने कहा, “पाकिस्तान में अभी भी आतंकी संगठन सक्रिय हैं। क्या हम उन्हें सीमा पार कर मुंबई में घुसकर 150 लोगों को मारने का आदेश दे सकते हैं? क्या कोई मुझे इस बात का जवाब देगा? हम तो केस भी पूरा नहीं चलने देते।” बता दें कि हाल ही में पाक ने 26/11 के मुंबई हमले की पैरवी कर रहे मुख्य वकील चौधरी अजहर को हटा दिया गया था।
  • नवाज ने कहा, “अगर आप कोई देश चला रहे हैं तो उसी के साथ में दो या तीन समानांतर सरकारें नहीं चला सकते। इसे बंद करना होगा। आप संवैधानिक रूप से केवल एक ही सरकार चला सकते हैं। मुझे अपने लोगों ने सत्ता से बेदखल कर दिया। कई बार समझौते करने के बाद भी मेरे विचारों को स्वीकार ही नहीं किया गया। अफगानिस्तान की सोच को मान लिया जाता है, लेकिन हमारी नहीं।”

मुंबई मेंकब हुआ था हमला?

  • 26 नवंबर 2008 को लश्कर-ए-तैयबा के 10 आतंकवादी मुंबई के ताज होटल में घुस गए और चार दिनों तक वहां कब्जा जमाए रखा था। शहर के सात जगहों पर फायरिंग की थी।
  • इस हमले में 6 अमेरिकी नागरिकों समेत 166 लोग मारे गए थे। जबकि 300 लोग घायल हो गए थे। 10 में से 9 आतंकियों को मार गिराया गया था। अजमल कसाब को जिंदा पकड़कर फांसी दे दी गई थी।

कौन है हाफिज सईद?

  • हाफिज के सिर पर अमेरिका ने 1 करोड़ डॉलर का इनाम घोषित कर रखा है। इसके खिलाफ इंटरपोल का रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी हो चुका है। पाक सरकार ने हाफिज का नाम एग्जिट कंट्रोल लिस्ट (ECL) में भी शामिल किया है। यानी यह पाक छोड़कर नहीं जा सकता। पाकिस्तान ने हाफिज सईद को आतंकी भी माना है। पंजाब प्रोविन्स की सरकार ने सईद का नाम एंटी-टेररिज्म एक्ट (ATA) के 4th शेड्यूल में शामिल कर रखा है।
  • भारत पाकिस्तान से लगातार मुंबई हमले की जांच दोबारा से करने मांग करता रहा है। भारत की ये भी मांग है कि हाफिज और लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर जकीउर रहमान लखवी पर केस चलाया जाए। इसके लिए भारत पहले ही पाक को सबूत दे चुका है

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Loading...