वाडा एनडीटीएल का निलंबन वापस लेने की प्रक्रिया में तेजी लाये: रिजिजू

नई दिल्ली: केन्द्रीय खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने विश्व डोपिंग रोधी एजेंसी (वाडा) के साथ ऑनलाइन बैठक में साफ सुथरे खेलों को प्रोत्साहन देने के प्रति भारत की प्रतिबद्धता दोहराई है और उन्होंने वाडा से नेशनल डोप टेस्टिंग लैबोरेटरी (एनडीटीएल) के निलंबन को वापस लेने की प्रक्रिया में तेजी लाने का अनुरोध किया है। एनडीटीएल की वाडा से संबद्धता 20 अगस्त, 2019 से निलंबित चल रही है।

रिजिजू ने बैठक में कहा, “मैं कई वर्षों से साफ सुथरे खेलों को प्रोत्साहन देने पर काम कर रहा हूं और अब भारत के खेल मंत्री के रूप में यह प्रतिबद्धता और मजबूत हुई है। मुझे आपको यह बताते हुए खुशी हो रही है कि मेरे मंत्रालय के लिए क्लीन स्पोर्ट्स एक मुख्य क्षेत्र है और हम वैश्विक स्तर पर साफ सुथरे खेल सुनिश्चित करने के लिए वाडा के साथ सहयोग करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।”

विभिन्न मुद्दों पर विचार विमर्श करते हुए खेल मंत्री ने वाडा के दिशानिर्देशों के तहत परीक्षण कराने के लिए नेशनल डोप टेस्टिंग लैबोरेटरी (एनडीटीएल) की तैयारियों पर भी बात की। इस संबंध में रिजिजू ने कहा, “मुझे बताया गया है कि एनडीटीएल ने वाडा द्वारा दी गई समय सीमा के तहत वाडा को सभी 47 सुधारात्मक कार्रवाई रिपोर्ट सौंप दी हैं और वाडा एग्जीक्यूटिव कमेटी के अध्यक्ष द्वारा सूचित 13 बिंदुओं पर एक अनुपालन रिपोर्ट भी भेज दी है। इसके साथ ही, एनडीटीएल अब वाडा और इंटरनेशनल स्टैंडर्ड ऑफ लैबोरेटरीज की सभी आवश्यकता का पूर्ण रूप से अनुपालन कर चुका है। मैं आपसे वाडा की संबद्धता से एनडीटीएल के निलंबन को वापस लेने की प्रक्रिया और व्यवस्था में तेजी लाने का अनुरोध करूंगा।” उल्लेखनीय है कि एनडीटीएल की वाडा से संबद्धता 20 अगस्त, 2019 से निलंबित चल रही है।

खेल मंत्री ने एनडीटीएल के ऑन-साइट भ्रमण के लिए वाडा के दल को भी आमंत्रित किया। उन्होंने कहा, “एक बार अंतराष्ट्रीय यात्रा शुरू होने पर, मैं वाडा के दल से एनडीटीएल का भ्रमण करने और वाडा के संतोषजनक स्तर के तहत सभी सुधारों की जांच का अनुरोध करूंगा। अगर कुछ और संशोधन की जरूरत पड़ती है तो हम उस पर अमल करेंगे।”