मानसून सत्र से पहले 5 सांसद कोरोना पॉजिटिव मिले, संसद भवन परिसर को COVID फ्री बनाने की कवायद तेज

संसद का मानसून सत्र शुरू होने से पहले व्यापक तैयारी की गई है। कोरोना संक्रमण की छाया से संसद परिसर को मुक्त रखने के लिए सांसदों, कर्मचारियों और पत्रकारों की जांच की गई है। सूत्रों ने बताया कि रविवार को जांच में पांच लोकसभा सांसद कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए हैं। सोमवार से शुरू हो रहे मानसून सत्र में स्वास्थ्य मंत्रालय की सभी गाइडलाइंस का कड़ाई से पालन होगा। संसद में उन्हीं सांसदों, कार्मिकों को जाने की इजाजत होगी, जिनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव होगी।

कोविड-19 महामारी के मद्देनजर कागज का कम से कम उपयोग करने का प्रयास किया जा रहा है। सांसद अपनी उपस्थिति डिजिटल माध्यम से दर्ज कराएंगे। सदन में प्रवेश करने वाले सभी लोगों के शरीर के तापमान को जांचने के लिए थर्मल गन और थर्मल स्कैनर का उपयोग किया जाएगा। सदन के भीतर 40 स्थानों पर टचलेस सैनिटाइटर लगाए जाएंगे और आपातकालीन मेडिकल टीम और स्टैंडबाय पर एम्बुलेंस की सुविधा भी होगी। कोविड-19 रोकथाम से संबंधित सभी दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन किया जाएगा।

लोकसभा अध्यक्ष ने लिया जायजा
संसद के मानसून सत्र से पूर्व लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने रविवार को संसद परिसर का दौरा कर स्वास्थ्य एवं सुरक्षा उपायों तथा अन्य तैयारियों का जायजा लिया और अधिकारियों को कई दिशा-निर्देश भी दिए। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने रविवार सुबह कार्य मंत्रणा समिति की बैठक की अध्यक्षता की। इसके बाद करीब डेढ़ घंटे तक संसद परिसर का दौरा किया। उन्होंने सबसे पहले प्रवेश द्वार का निरीक्षण किया तथा वहां लगाए गए थर्मल कैमरा की कार्यप्रणाली को समझा। उन्होंने प्रवेश द्वार पर तैनात प्रत्येक कर्मचारी को भी सैनेटाइजर उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए। इसके बाद उन्होंने सांसदों के लिए तैयार की गई कोविड टेस्टिंग फैसिलिटी, सभा कक्ष, कॉरीडोर, इनर लॉबी, आउटर लॉबी, वेटिंग हॉल, मीडिया स्टैंड और परिसर में अन्य स्थानों को देखा तथा छोटी-मोटी कमियों को दूर करने के निर्देश दिए।

गाइडलाइन के मुताबिक इंतजाम
निरीक्षण के बाद लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि संसद का मानसून सत्र विपरीत परिस्थितियों में आयोजित किया जा रहा है। मानसून सत्र के लिए स्वास्थ्य सुरक्षा के माकूल इंतजाम किए गए हैं। केंद्र सरकार की गाइडलाइंस तथा विशेषज्ञ संस्थानों के सुझावों का पालन करते हुए सभी स्थानों पर सैनिटाइजेशन व अन्य व्यवस्थाएं माकूल रहें, यह सुनिश्चित किया गया है।
सभी दलों को दी जानकारी

इससे पूर्व बिजनेस एडवाइजरी कमेटी में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सभी दलों को स्वास्थ्य सुरक्षा व अन्य तैयारियों का विस्तृत ब्योरा दिया।

उपचार की भी व्यवस्था
लोकसभा अध्यक्ष ने बताया कि सत्र से पूर्व सभी सांसदों व उनके परिजनों का कोरोना टेस्ट करवाया गया है। सभी सांसदों को सैनेटाइजर, मास्क, ग्लब्ज सहित अन्य स्वास्थ्य सुरक्षा संबंधी सामग्री की किट भेजी गई है। संसद के सभी अधिकारियों-कर्मचारियों का भी टेस्ट करवाया गया। सत्र की पूरी अवधि के दौरान परिसर में टेस्ट की सुविधा रहेगी। उन्होंने कहा कि यदि किसी सदस्य को स्वास्थ्य संबंधी शिकायत होती है तो उनके उचित उपचार की पूरी व्यवस्था की गई है।