भारी मन से मुंबई से विदा हुईं कंगना रनौत, कहा- ‘PoK से तुलना करना रहा धमाकेदार’

नई दिल्ली: बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) और शिवसेना नेता संजय (Sanjay Raut) के बीच की बयानी जंग कुछ इस तरह बढ़ गई कि अब यह थमन का नाम नहीं ले रही. बयानों से शुरू हुई इस जंग में हद तो तब हो गई जब BMC ने कंगना के ऑफिस में तोड़फोड़ की. कुछ देर पहले कंगना मुंबई से वापस मनाली के लिए निकल चुकी हैं. लेकिन जाते जाते उन्होंने एक बार फिर ट्वीट करके अपनी आपबीती सुनाते हुए मुंबई को PoK कहा है.  

कंगना ने ट्वीट किया है, ‘भारी मन से मुंबई छोड़ने के कारण, जिस तरह से मैं इन दिनों लगातार आतंकित थी और मेरे वर्कस्पेस को तोड़ने के बाद मेरे घर को तोड़ने की कोशिश में लगातार बयानबाजी से हमले और गालियां पड़ीं, मेरे चारों ओर घातक हथियारों के साथ सतर्क सुरक्षा, कहना चाहिए कि पीओके कहना धमाकेदार रहा.’

कंगना के दिल में जितना गुस्सा भरा था वह एक ट्वीट से नहीं निकल सका तो उन्होंने कुछ देर पहले एक और ट्वीट करके ‘रक्षक के भक्षक’ बनने की बात कही है. उन्होंने लिखा है, 

‘जब रक्षक ही भक्षक होने का एलान कर रहे हैं धड़ियाल बन लोकतंत्र का चीरहरण कर रहे हैं,
मुझे कमज़ोर समझ कर 
बहुत बड़ी भूल कर रहे हैं!
एक महिला को डरा कर उसे नीचा दिखाकर,
अपनी इमेज को धूल कर रहे हैं!!’

आपको बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत मामले में ड्रग्स को लेकर कंगना ने कुछ खुलासे करने की बात कही थी. लेकिन कंगना ने महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस से खुद के लिए खतरा भी बताया था. जिसके बाद केंद्र सरकार ने उन्हें सुरक्षा दी है. 

कंगना ने रविवार शाम 5 बजे महाराष्ट्री के गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की. उन्होंने गवर्नर के सामने अपना पक्ष रखा. मुलाकात के बाद उन्होंने कहा मुझे इंसाफ मिलने की पूरी उम्मीद है.