पंचायत के सामने एक महिला के कपड़े उतरवाकर नहलाने के मामले में आया नया मोड़

राजस्थान के सीकर में बीते दिनों एक महिला को निर्वस्त्र कर नहलाने के मामले में अब नया मोड़ आ गया है। पीड़िता ने पुलिस थाने पहुंच समाज के पंचों के खिलाफ न्यूड फोटो को वायरल करने और थाने में झूठी शिकायत दर्ज करवाने की शिकायत सौंप दी है।

पीड़िता ने पुलिस के पास पहुंच आरोप लगाया है कि गांव के पंचों ने पंचायत में निर्वस्त्र कर नहलाने का आरोप लगाने वाले लोग समाज के कथित ठेकेदार उसका निर्वस्त्र फोटो लेकर उसके घर आए थे और फोटो दिखाकर ससुर को ब्लैकमेल करने की कोशिश कर रहे थे। इन लोगों ने उसके ससुर से पांच लाख रुपए भी मांगे है। रुपए नहीं दिए तो निर्वस्त्र फोटो वायरल करने की धमकी देकर चले गए।  इसके बाद बदनाम करने के लिए थाना में झूंठा मामला दर्ज करवा दिया.।

जिले के ग्रामीण क्षेत्र में हुए इस मामले में पुलिस ने 13 लोगों को नामजद कर उनके खिलाफ आईटी एक्ट व स्त्री अशिष्ट रूपण अधिनियम की विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है। 

पीड़िता ने  पुलिस अधीक्षक को दिए परिवाद में युवक से संबंध होने की बात स्वीकारी है और कहा है कि यह फोटो उसने स्वयं खींचकर अपने प्रेमी व रिश्ते में भतीजे को भेजे थे।  इन फोटो की जानकारी  समाज के कुछ लोगों को लग गई तो  षडय़ंत्र रच कर इन लोगों ने बदनाम करने के लिए थाने में मुकदमा दर्ज करवा दिया। साथ ही फोटो वायरल कर समाज व रिश्तेदारों में उसकी मान-मर्यादा को बदनाम कर दिया।