नेहरू युवा केंद्रों ने एक लाख से अधिक पोषण संबंधी गतिविधियां आयोजित कीं

नई दिल्ली : समग्र पोषण के लिए प्रधानमंत्री की व्यापक योजना पोषण अभियान के तहत प्रत्येक वर्ष के सितंबर महीने को राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मनाया जाता है और इस दौरान नेहरू युवा केंद्रों ने एक लाख से अधिक पोषण संबंधी गतिविधियां आयोजित कीं। इस योजना को 2018 में शुरू किया गया था।

युवा मामले और खेल मंत्रालय ने एक सितंबर 2020 से शुरू हुए पोषण माह के दौरान कई गतिविधियां आयोजित कीं। पोषण माह का उद्देश्य पोषण संकेतकों में सुधार के लिए देश भर में सामूहिक स्तर पर जुटना है। युवा मामले विभाग का नेहरू युवा केंद्र संगठन (एनवाईकेएस) पिछले दो वर्षों से सितंबर महीने को देश भर में राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मना रहा है।

इस दौरान हर घर पोषण त्यौहार के संदेश को आगे बढ़ाया जाएगा। राष्ट्रीय पोषण माह के क्रियान्वयन के एक हिस्से के रूप में जिला नेहरू युवा केंद्रों ने राष्ट्रीय युवा स्वयं सेवकों (एनवाईवी), यूथ क्लबों के सदस्यों, कोविड ​​स्वयं सेवकों, गंगा दूतों और अन्य स्वयं सेवकों को जिला प्रशासन, आंगनवाड़ी, आशा वर्करों के सहयोग से ग्रामीणों को विभिन्न मुद्दों के प्रति जागरूक करने के लिए प्रेरित किया। इनमें कुपोषण से मुक्ति, स्तनपान का महत्व और किचन गार्डन का प्रचार शामिल है।

युवा मामले और खेल राज्य मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा कि नेहरू युवा केंद्र संगठन दुनिया के सबसे बड़े युवा संगठनों में से एक है। युवा स्वयं सेवक लगातार राष्ट्र निर्माण की गतिविधियों जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य और स्वच्छता, पर्यावरण, सामाजिक मुद्दों पर जागरूकता, महिला सशक्तिकरण और नागरिक शिक्षा आदि में संलग्न हैं। उन्होंने कहा कि हम हर घर पोषण त्यौहार के संदेश को आगे ले जाने के लिए सितंबर के महीने में पोषण माह मना रहे हैं।