दुनिया के वो देश जहां भारत के स्टूडेंट्स को मिलती है FREE एजुकेशन, कॉलेज वाले नहीं वसूलते 1 भी रुपया

दुनियाभर से अशिक्षा (illiteracy) को खत्म करने के मकसद से आज 54वां  ‘अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस’(international literacy day) मनाया जा रहा है। लिटरेसी आज दुनिया की सबसे बड़ी जरूरतों में से एक है। इसका सोशल और इकोनॉमिक डेवलपमेंट से गहरा संबंध है। किसी भी देश का विकास तब होता है जब वहां के लोग शिक्षित हो। हर मां – बाप अपने बच्चों को टॉप की एजुकेशन देना चाहते हैं पर महंगाई के इस जमाने में ये मुश्किल होता जा रहा है। तो चलिए आज हम आपको बताते हैं दुनिया की बेहतरीन यूनिवर्सिटीज के बारे में जहां इंडियन स्टूडेंट्स को फ्री एजुकेशन मिलती है।

जर्मनी
जर्मनी उन देशों में से एक हैं जहां टॉप एजुकेशन मिलती है। यहां की यूनिवर्सिटी की सबसे अच्छी बात ये है कि यहां पर स्टूडेंट्स से ट्यूशन फीस नहीं ली जाती हैं। हालांकि छात्रों को बस प्रशासन शुल्क देना होता है जो हमारे देश में वसूल की गई फीस की तुलना में बहुत कम है। इन यूनवर्सिटीज में कोई भी छात्र पढ़ सकता हैं क्योंकि यहां का सेलेब्स अंग्रेजी में हैं, जिससे इंटरनेशल स्टूडेंसट्स के लिए हायर एजुकेशन हासिल करना आसान हो जाता है।

<p><strong>नॉर्वे</strong><br />
नॉर्वे एक और ऐसा देश है जहाँ आपको ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन या डॉक्टरेट की डिग्री हासिल करने के लिए एक पैसा खर्च नहीं करना पड़ता है। हालांकि, नॉर्वे के ज्यादातर कॉलेज नॉर्वेजियन भाषा में पढ़ाते हैं, यही वजह है कि यहां पढ़ने के लिए आपको नॉर्वे की भाषा सीखने की जरुरत होती है। </p>

नॉर्वे
नॉर्वे एक और ऐसा देश है जहाँ आपको ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन या डॉक्टरेट की डिग्री हासिल करने के लिए एक पैसा खर्च नहीं करना पड़ता है। हालांकि, नॉर्वे के ज्यादातर कॉलेज नॉर्वेजियन भाषा में पढ़ाते हैं, यही वजह है कि यहां पढ़ने के लिए आपको नॉर्वे की भाषा सीखने की जरुरत होती है।

<p><strong>स्वीडन</strong><br />
स्वीडिश यूनिवर्सिटी भी बिना किसी ट्यूशन फीस के स्टूडेंट्स को पढ़ाती हैं। और ये रूल स्वीडिश और इंटरनेशल स्टूडेंट्स दोनों के लिए लागू है। यदि आप किसी स्वीडिश विश्वविद्यालय से पीएचडी करते हैं, तो आपको अपनी रिसर्च पूरी करने के लिए पैसा भी मिलता है। इसके अलावा, स्वीडिश यूनिवर्सिटी बाहर से आए छात्रों को स्कॉलरशिप भी देती हैं। </p>

स्वीडन
स्वीडिश यूनिवर्सिटी भी बिना किसी ट्यूशन फीस के स्टूडेंट्स को पढ़ाती हैं। और ये रूल स्वीडिश और इंटरनेशल स्टूडेंट्स दोनों के लिए लागू है। यदि आप किसी स्वीडिश विश्वविद्यालय से पीएचडी करते हैं, तो आपको अपनी रिसर्च पूरी करने के लिए पैसा भी मिलता है। इसके अलावा, स्वीडिश यूनिवर्सिटी बाहर से आए छात्रों को स्कॉलरशिप भी देती हैं।

<p><strong>ऑस्ट्रिया</strong><br />
ऑस्ट्रिया की यूनिवर्सिटीज में भी बहुत ही नॉमिनल चार्ज में एजुकेशन मिलती हैं। बाहर से आए छात्रों को केवल नामांकन के दौरान मामूली फीस देनी होती है।ऑस्ट्रिया को हायर एजुकेशन के लिए सभी देशों में सबसे अच्छा माना जाता है क्योंकि यहां टॉप क्लास एजुकेशन मिलती है। </p>

ऑस्ट्रिया
ऑस्ट्रिया की यूनिवर्सिटीज में भी बहुत ही नॉमिनल चार्ज में एजुकेशन मिलती हैं। बाहर से आए छात्रों को केवल नामांकन के दौरान मामूली फीस देनी होती है।ऑस्ट्रिया को हायर एजुकेशन के लिए सभी देशों में सबसे अच्छा माना जाता है क्योंकि यहां टॉप क्लास एजुकेशन मिलती है।

<p><strong>फिनलैंड</strong><br />
फिनलैंड में पोस्ट ग्रेजुएशन और डॉक्टरेट की पढ़ाई फ्री होती है। वैसे फिनलैंड डिजाइनिंग, आर्किटेक्चर, कम्युनिकेशन के लिए बहुत पॉप्युलर है। इस देश में पॉलिटेक्निक कॉलेज भी हैं।</p>

फिनलैंड
फिनलैंड में पोस्ट ग्रेजुएशन और डॉक्टरेट की पढ़ाई फ्री होती है। वैसे फिनलैंड डिजाइनिंग, आर्किटेक्चर, कम्युनिकेशन के लिए बहुत पॉप्युलर है। इस देश में पॉलिटेक्निक कॉलेज भी हैं।

<p><strong>चेक रिपब्लिक</strong><br />
चेक रिपब्लिक में मेडिसिन, इंजीनियरिंग और साइंस के स्टूडेंट्स को फ्री एजुकेशन दी जाती हैं। हालांकि यहां ज्यादातर चेक भाषा में पढ़ाई करवाई जाती है पर कई यूनिवर्सिटीज है जो अंग्रेजी में भी एजुकेशन देती हैं।</p>

चेक रिपब्लिक
चेक रिपब्लिक में मेडिसिन, इंजीनियरिंग और साइंस के स्टूडेंट्स को फ्री एजुकेशन दी जाती हैं। हालांकि यहां ज्यादातर चेक भाषा में पढ़ाई करवाई जाती है पर कई यूनिवर्सिटीज है जो अंग्रेजी में भी एजुकेशन देती हैं।

<p><strong>फ्रांस</strong><br />
फ्रांस एक बहुत ही खूबसूरत देश है और यहां का एजुकेशन सिस्टम में भी बहुत बढ़िया है। अंतरराष्ट्रीय छात्रों के लिए यहां एजुकेशन मुफ्त है। फ्रांस में 39 यूनिवर्सिटी हैं जो दुनिया भर के छात्रों को वर्ल्ड लेवल की एजुकेशन दे रही हैं।</p>

फ्रांस
फ्रांस एक बहुत ही खूबसूरत देश है और यहां का एजुकेशन सिस्टम में भी बहुत बढ़िया है। अंतरराष्ट्रीय छात्रों के लिए यहां एजुकेशन मुफ्त है। फ्रांस में 39 यूनिवर्सिटी हैं जो दुनिया भर के छात्रों को वर्ल्ड लेवल की एजुकेशन दे रही हैं।

<p><strong>बेल्जियम</strong><br />
बेल्जियम में भी स्टूडेंट्स को टॉप लेवल की एजुकेशन दी जाती है। यहां पढ़ने वाले छात्रों से ट्यूशन फीस बहुत ही कम ली जाती है साथ ही कोर्स पूरा करने के बाद एक अच्छा प्लेसमेंट भी यूनिवर्सिटी से मिलता है।</p>

बेल्जियम
बेल्जियम में भी स्टूडेंट्स को टॉप लेवल की एजुकेशन दी जाती है। यहां पढ़ने वाले छात्रों से ट्यूशन फीस बहुत ही कम ली जाती है साथ ही कोर्स पूरा करने के बाद एक अच्छा प्लेसमेंट भी यूनिवर्सिटी से मिलता है।

<p><strong>ग्रीस</strong><br />
ग्रीस में पोस्ट ग्रेजुएशन और डॉक्टरेट की डिग्री के लिए जा सकते हैं। यहां पर ज्यादातर कोर्स अंग्रेजी में हैं और फीस के नाम पर बहुत नॉमिनल चार्ज स्टूडेंट्स से लिया जाता है। </p>

ग्रीस
ग्रीस में पोस्ट ग्रेजुएशन और डॉक्टरेट की डिग्री के लिए जा सकते हैं। यहां पर ज्यादातर कोर्स अंग्रेजी में हैं और फीस के नाम पर बहुत नॉमिनल चार्ज स्टूडेंट्स से लिया जाता है।

<p><strong>स्पेन</strong><br />
स्पेन में फ्री में तो पढ़ाई नहीं होती है पर यहां बहुत कम लागत में कोर्स पूरा किया जा सकता है। यहां स्टूडेंट्स को टॉप लेवल की एजुकेशन दी जाती हैं।</p><p>तो आप भी अगर विदेश में जाकर पढ़ाई करने की सोच रहे हैं तो इन देशों में आपको बेहतर विकल्प मिलेंगे। </p>

स्पेन
स्पेन में फ्री में तो पढ़ाई नहीं होती है पर यहां बहुत कम लागत में कोर्स पूरा किया जा सकता है। यहां स्टूडेंट्स को टॉप लेवल की एजुकेशन दी जाती हैं।

तो आप भी अगर विदेश में जाकर पढ़ाई करने की सोच रहे हैं तो इन देशों में आपको बेहतर विकल्प मिलेंगे।