दिल्ली दंगों के लिए उमर खालिद ने की थी खास प्लानिंग, बनाया था खुफिया वाट्सएप ग्रुप

नई दिल्ली: दिल्ली दंगों के आरोपी उमर खालिद (Umar Khalid) को दिल्ली पुलिस ने लंबी पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस की पूछताछ में उमर खालिद ने दंगों से जुड़े कई सनसनीखेज खुलासे किए.

बताते चलें कि उमर खालिद पर दिल्ली दंगों के लिए नार्थ ईस्ट एरिया के कई इलाकों में मीटिंग कर धरना प्रदर्शन के लिए लोगों को उकसाने और फंड उपलब्ध कराने का आरोप है. पुलिस पूछताछ में उमर खालिद ने बताया कि दिसंबर के पहले हफ्ते में CAA और NRC के खिलाफ खड़े होने और विरोध प्रदर्शन तेज करने के लिए एक बड़ी मीटिंग जंगपुरा इलाके में की गई थी. जहां पर उमर खालिद, शरजील इमाम ,परवेज आलम, नदीम खान और कई अन्य लोग शामिल हुए. 

कई घंटे तक चली बैठक में शाहीन बाग समेत कई जगहों पर विरोध का खाका तैयार किया गया. इस मीटिंग के बाद एक वाट्सएप्प ग्रुप बनाया गया था. जिसका नाम CAB रखा गया, मतलब था सिटीजन अमेंडमेंट बिल. इस ग्रुप के जरिए सरकार के खिलाफ रोजाना होने वाली रणनीति को तैयार किया जाता था. उमर खालिद कई प्रदर्शनों में जाकर पूरी तैयारी के साथ विरोध के लिए भाषण देता था. 

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल उमर खालिद को आज कड़कड़डूमा कोर्ट में पेश कर रिमांड मांगेगी ताकि उसके साथ बड़े नामों की जांच की जा सके. माना जा रहा है दिल्ली पुलिस अगले कुछ दिनों में दंगे के अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार कर सकती है.