दिल्ली एयरपोर्ट टर्मिनल-2 : छह महीने बाद 1 अक्टूबर से शुरू होगा उड़ानों का परिचालन

दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरार्ष्ट्रीय एयरपोर्ट पर एक अक्टूबर से टर्मिनल-2 से दुबारा उड़ानें शुरू होंगी। दिल्ली अंतरार्ष्ट्रीय एयोपोर्ट लिमिटेड (डायल) ने आज बताया कि एक अक्टूबर से गोएयर की सभी उड़ानें और इंडिगो की 2000 सीरीज की उड़ानें टी-2 से रवाना होंगी।

छह महीने बाद इस टर्मिनल पर उड़ानों की आवाजाही दुबारा शुरू हो रही है। कोविड-19 के कारण दो महीने बंद रहने के बाद 25 मई को जब देश में घरेलू यात्री उड़ानें दुबारा शुरू हुईं तो उड़ानों की संख्या कम होने की वजह से दिल्ली में सिर्फ एक ही टर्मिनल टी-3 का इस्तेमाल जा रहा था। अब उड़ानों की संख्या बढ़ने के साथ ही कुछ उड़ानों को टी-2 पर स्थानांतरित किया जा रहा है।

डायल ने बताया कि 1 अक्टूबर से टी-2 पर 96 जोड़ी उड़ानों का परिचालन होगा। अक्टूबर के अंत तक यह संख्या बढ़ाकर 180 की जायेगी। टर्मिनल पर गोएयर के लिए 11 और इंडिगो के लिए 16 काउंटर होंगे। 1 अक्टूबर को पहली उड़ान सुबह 6:25 बजे रवाना होगी। इंडिगो की यह उड़ान दिल्ली से श्रीनगर जाएगी।

इंडिगो ने बताया कि 1 अक्टूबर से इंडिगो की 20 शहरों को जाने वाली उड़ानें टी-2 से जाएगी। ये शहर हैं – अहमदाबाद, अमृतसर, भुवनेश्वर, बड़ौदा, भोपाल, बेंगलुरु, कोचीन, गुवाहाटी, इंदौर, इम्फाल, इलाहाबाद, जम्मू, औरंगाबाद, लखनऊ, चेन्नई, पटना, रायपुर, श्रीनगर, त्रिवेंद्रम् और विशाखापत्तनम।

अगले चरण में आठ अक्टूबर से 12 और शहरों को जाने वाली इंडिगो की उड़ानें टी-2 पर ट्रांसफर हो जायेंगी। इनमें मुंबई, कोलकाता, कोयम्बटूर, देहरादून, डिब्रूगढ़, गोवा, हैदराबाद, मदुरई, जयपुर, नागपुर, सूरत और वाराणसी शामिल हैं।  
डायल ने बताया कि टर्मिनल-3 की तरह ही टर्मिनल-2 पर भी कोविड-19 से बचाव के सभी उपाय किए गए हैं। डायल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी विदेह कुमार जयपुरियार ने आश्वस्त किया है कि टी-2 पर भी यात्रियों को सुरक्षित और स्वास्थ्यकर वातावरण मिलेगा।