दिग्गज अभिनेत्री आशालता का 79 साल की उम्र में कोरोना से निधन, निभा चुकी हैं अमिताभ बच्चन की मां का किरदार

First slide

मुंबई : प्रख्यात मराठी, हिंदी फिल्मों और रंगमंच की कलाकार आशालता वाबगांवकर का सतारा के एक निजी अस्पताल में कोविड-19 से निधन हो गया। वह चार दिनों तक कोरोना वायरस से लड़ती रहीं। वह 79 साल की थीं। पिछले सप्ताह एक निजी अस्पताल में भर्ती होने के दौरान वह गंभीर हालत में थी। उनका देहांत मंगलवार सुबह करीब 4.45 मिनट पर अस्पताल में हुआ। 

जानी मानी फिल्म और थिएटर कलाकार आशालता का कोरोना से निधन

आशालता के नाम से मशहूर गोवा में पैदा हुई अभिनेत्री को कोविड-19 का संक्रमण एक टेलीसेरियल की शूटिंग के दौरान हुआ था। पिछले तीन दिनों से उनकी हालत काफी खराब थी। रिपोर्ट्स के अनुसार, एक हफ्ते पहले उन्होंने नए पौराणिक शो ‘आई माज़ी कलुबाई’ की शूटिंग शुरू की थी। इसी दौरान वो कोविड की चपेट में आईं. इतना ही नहीं इस शो के 20 से 22 सदस्य कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं, जिन्हें होम क्वारंटीन किया गया है। हालांकि आशालता एकलौती ऐसी थी, जिनकी कोविड के कारण हालत ज्यादा खराब हुई और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा।
 
कहा जा रहा है कि मुंबई से एक डांस ग्रुप को एक गाने के शूट के लिए बुलाया गया था और उनके जरिए ही शो के सदस्यों में कोरोना वायरस फैला। हालांकि अभी इसकी पुष्टि नहीं हुई है। बताते चलें कि अभिनेत्री आशालता ने कई बॉलीवुड फिल्मों में भी काम किया था। उन्होंने 100 से अधिक फिल्में, नाटक और सीरीज की है।

आशालता वाबगांवकर

अमिताभ की मां बनी थीं आशालता 
आशालता वाबगांवकर कई हिट हिंदी फिल्में में अभिनय किया है। उनकी पहली बॉलीवुड फिल्म ‘जंजीर’ थी। जिसमें आशालता वाबगांवकर ने अमिताभ बच्चन की सौतेली मां का किरदार निभाकर अपनी पहचान बना ली थी। यह फिल्म साल 1973 में आई थी।