कोरोना काल में ‘ड्राइव-इन’ शादी का चलन बढ़ा, जानें कैसे विवाह के बंधन में बंधता है जोड़ा

कोरोनाकाल में बैंड, बाजा, बारात के साथ शादी रचाने का अरमान पूरा करने तो मुश्किल है। ऐसे में ब्रिटेन की एक कैब कंपनी ने ‘ड्राइव-थ्रू’ शादी सेवा की शुरुआत की है, जिसमें दूल्हा-दुल्हन अलग-अलग कार में बैठकर सात जन्मों तक साथ जीने मरने की कसमें खाते हैं।

‘डेली मेल’ के मुताबिक गुरुवार शाम ‘ड्राइव-थ्रू’ सेवा के तहत पूर्वी लंदन के बाउंडरी गार्डन में पांच जोड़े शादी के बंधन में बंधे। ‘फ्री नाउ’ ने पांचों दूल्हे को लाने के लिए उनके घर फूलों से सजी काली कैब भेजवाई। वहीं, दुल्हनों को सफेद कार से वैवाहिक स्थल पर बुलवाया गया। एक-एक कर पांचों जोड़ों ने कार में ही बैठे-बैठे खिड़की से शादी की रस्में अदा कीं।

खिड़की से सर्टिफिकेट पर दस्तखत
-अखबार के मुताबिक दूल्हा-दुल्हन पूरी शादी के दौरान कार में ही बैठे रहे। उन्होंने खिड़की से ही एक-दूसरे को ‘आई डू’ कहा। विवाह प्रमाणपत्र पर दस्तखत के लिए भी खिड़की का ही सहारा लिया। बात जब वेडिंग किस करने की बारी आई तो भी वे खिड़की से गर्दन निकालकर एक-दूसरे को चूमते नजर आए। बाउंडरी गार्डन में छह-छह फीट की दूरी पर पार्क की गई गाड़ियों में सवार परिजन वैवाहिक रस्मों के गवाह बने। अंत में सभी ने अपनी-अपनी जगह से जाम छलकाते हुए दूल्हा-दुल्हन को शादी की शुभकामनाएं दीं।

‘लास वेगास मॉडल’ से प्रेरित सेवा
-‘फ्री नाउ’ की ‘ड्राइव थ्रू’ शादी सेवा ‘वेगास मॉडल’ से प्रेरित है। इसमें दूल्हा-दुल्हन आपसी सहमति से शादी के लिए एक खास लोकेशन चुनकर वेडिंग प्लानर से संपर्क साधते हैं। वेडिंग प्लानर संबंधित लोकेशन पर शादी से जुड़ी सभी तैयारियों को अंजाम देता है। वह पादरी से लेकर दो गवाहों तक का इंतजाम करता है। इसके बाद दूल्हा-दुल्हन तय समय पर घरवालों की नजरों से छिपते-छिपाते अपनी-अपनी कार से संबंधित लोकेशन पर पहुंचते हैं और शादी के बंधन में बंध जाते हैं। बाद में वे घर लौटकर परिजनों का शानदार पार्टी देते हैं।

‘ड्राइव-इन’ शादी का चलन बढ़ा
-महामारी में ‘ड्राइव-इन’ शादी का चलन भी जोर पकड़ रहा है। इसके तहत दूल्हा-दुल्हन मेहमानों को कार में बैठकर अपनी जिंदगी के सबसे खास पल का गवाह बनने का मौका देते हैं। बीते महीने न्यूयॉर्क में बसे एक यहूदी जोड़े की ‘ड्राइव-इन’ शादी की तस्वीरें सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुई थीं।

मास्क में जोड़े ने रचाया ब्याह
-गेडेलिया और सेलेब ने मास्क पहनकर साथ जीने-मरने की कसमें खाईं। विवाह की सभी रस्में पूरी होने के बाद उन्होंने फोन कर गवाह को बुलाया। मास्क में पहुंची गवाह ने ‘केतुबा’ यानी हिब्रु में लिखे विवाह प्रमाणपत्र पर दस्तखत कर दोनों के रिश्ते पर कानूनी मुहर लगाई।

खुशियों के एहसास में कमी नहीं
-ब्याह में पहुंचे मेहमानों ने अपनी कार फूलों, गुब्बारों और रिबन से सजा रखी थी। कुछ मेहमानों ने रंगीन चॉक से जोड़े के लिए शुभकामना संदेश लिखे थे तो कुछ ने उनकी फोटो से बना कोलाज लगाया था। शादी की रस्में रेडियो और जूम ऐप पर लाइव प्रसारित की गई थीं।

सतर्कता
-40 कारों में सवार मेहमानों ने शादी में शिरकत की थी
-06 फीट के फासले पर पार्क किया गया था प्रत्येक वाहन
-365 किलोमीटर गाड़ी चलाकर न्यूयॉर्क से वाशिंगटन पहुंचे थे ज्यादातर मेहमान