‘आप’ के सांसद संजय सिंह को गांधी पुरस्कार

First slide

कोट्टयम : आम आदमी पार्टी (आप) के राज्यसभा सांसद संजय सिंह को महात्मा गांधी नेशनल फाउंडेशन ने ‘गांधी पुरस्कार’ के लिए चुना है। फाउंडेशन के अध्यक्ष ईबी जे जोस ने शुक्रवार को बताया कि सिंह ने इजरायल में एक निजी कंपनी की बीयर की बोतलों पर महात्मा गांधी के चित्रकों को हटाने के लिए भारत के कूटनीतिक हस्तक्षेप में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

जोस ने कहा, “सिंह ने इस मुद्दे को संसद में भी उठाया। इसके बाद भारत ने बीयर की बोतलों पर गांधी जी के चित्रों को हटाने के लिए कूटनीतिक रूप से हस्तक्षेप किया। उनके इस कदम के लिए यह पुरस्कार दिया जाएगा।” उन्होंने कहा कि अगले वर्ष जनवरी में नयी दिल्ली में एक समारोह में उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ‘आप’ सांसद को यह पुरस्कार प्रदान करेंगे।उन्होंने कहा कि इस पुरस्कार के तहत महात्मा गांधी की एक मूर्ति, 25,001 रुपये नकद और एक प्रमाणपत्र दिया जाता है।.

जोस ने कहा कि मद्रास उच्च न्यायालय के पूर्व मुख्य न्यायाधीश के नारायण कुरुप और वरिष्ठ पत्रकार एवं साहित्यकार जयशंकर मेनन की अध्यक्षता वाली समिति ने‘आप’ के राष्ट्रीय प्रवक्ता को इस पुरस्कार के लिए चुना है। संजय सिंह मूल रूप से उत्तर प्रदेश के सुलतानपुर के रहने वाले हैं। उन्होंने 1990 में उड़ीसा स्कूल ऑफ़ माइनिंग इंजीनियरिंग से खनन इंजीनियरिंग में डिप्लोमा किया था। जोस ने कहा कि सिंह ने संसद की ऊपरी सदन में कई लोकप्रिय मुद्दों को उठाकर ध्यान आकृष्ट किया है।