Published On: Wed, Oct 11th, 2017

नोटबंदी में पारदर्शिता बरतना धोखाधड़ी की बड़ी वजह बन सकता था जेटली

 

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सरकार के नोटबंदी के फैसले को गोपनीय रखने का बचाव करते हुए कहा कि इसकी घोषणा में यदि पारदर्शिता बरती जाती तो यह धोखाधड़ी की बड़ी वजह बनता। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष और विश्व् बैंक की वार्षिक बै”क में शामिल होने के लिए अमेरिका की एक सप्ताह की यात्रा पर आए जेटली ने कहा कि नोटबंदी और माल एवं सेवाकर जीएसटा जैसे सुधारों ने भारतीय अर्थव्यवस्था कोऔर अधिक मजबूत रास्तेपर ला दिया है। विश्वविद्यालय के छात्रों को संबोधित करते हुए जेटली ने कहा, यह संस्थागत सुधार हैं। यह ढांचागत बदलाव हैं और ये ढांचागत बदलाव मेरे हिसाब से भारतीय अर्थव्यवस्था को अधिक मजबूत रास्ते पर ले आए हैं।अब हम भविष्य में भारतीय अर्थव्यवस्था को अधिक साफ-सुथरी और बड़ी बनाने की ओर आगे बढ़ सकते हैं। जेटली ने न्यूयॉर्क में कोलंबिया विश्वविद्यालय के छात्रों से कहा, पारदर्शिता बहुत अच्छा शब्द है। लेकिन इस मामले नोटबंदा में पारदर्शिता को अपनाना धोखाधड़ी का बड़ा साधन बन सकता था।

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

%d bloggers like this: