Published On: Sun, Apr 15th, 2018

सीरिया ने अमेरिका के 103 मिसाइलों में से 71 को मार गिराया: रूस

दमिश्क: 

रूस की समाचार एजेंसी ने दावा किया है सीरिया पर शनिवार को अमेरिका, इंग्लैंड और फ्रांस की संयुक्त कार्रवाई में सैन्य ठिकानों पर दागी गई 103 मिसाइलों में से 71 को सीरिया ने मार गिराया।

रूस के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि शनिवार को अमेरिका ने फ्रांस और इंग्लैंड के सहयोग से सीरिया पर हमला किया लेकिन सीरियाई सेना ने की जवाबी कार्रवाई में अधिकतर मिसाइलों को गिरा दिया गया।

अधिकारी ने कहा कि यह तारीख सीरिया के हवाई सैनिक दलों के इतिहास में स्वर्णिम तरीके से लिखा जाना चाहिए।

रूस का कहना है कि उसे पहले से आशंका थी कि अमेरिका और उसके सहयोगी सीरिया पर हमला कर सकते हैं इसलिए उसने सीरिया के साथ जवाब देने की तैयारी शुरू कर दी थी।

रासायनिक हथियारों के इस्तेमाल की जवाबी कार्रवाई में सीरिया के पूर्वी घौता के डौमा में पर किए गए हमले में किसी के मारे जाने की खबर नहीं है।

रूस के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मारिया जखरोवा ने कहा कि अमेरिका और उसके सहयोगियों ने सीरिया पर ऐसे समय में सैन्य हमला किया है, जब सीरिया को शांतिपूर्ण भविष्य का अवसर मिला था।

समाचार एजेंसी ‘तास’ ने जखरोवा द्वारा शुक्रवार की रात फेसबुक पोस्ट में दिए बयान का जिक्र किया है, जिसमें उन्होंने कहा, ‘जो इसके (हमले) पीछे हैं, वे दुनिया में नैतिक नेतृत्व का दावा करते हैं और अपनी विशिष्टता बताते हैं।’

उन्होंने कहा, ‘सीरिया के पास आखिरकार जब शांति का मौका था, तब उसकी राजधानी पर हमला करना सचमुच एक अनोखी विशिष्टता है।’

वहीं अमेरिकी रक्षा विभाग का कहना है कि अमेरिका के नेतृत्व में संयुक्त कार्रवाई के तहत सीरिया के सभी सैन्य ठिकानों को निशाना बनाकर हवाई हमले किए गए।

पेंटागन की प्रवक्ता डाना व्हाइट और अमेरिकी नौसेना के लेफ्टिनेंट जनरल कीनीथ एफ.मैक्केनजी जूनियर ने अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस की शनिवार तड़के की संयुक्त कार्रवाई के बारे में जानकारी दी।

व्हाइट ने कहा, ‘यह अभियान पूरी तरह से व्यवस्थित था। हमने सफलतापूर्व सभी ठिकानों को निशाना बनाकर हमले किए।’

व्हाइट ने कहा, ‘इस ऑपरेशन अमेरिकी नीति में बदलाव की वजह से नहीं हुआ है और न ही इसका उद्देश्य सीरियाई सरकार का सत्ता से उखाड़ फेंकना है बल्कि यह हवाई हमले सीरियाई सरकार द्वारा अपने ही लोगों पर रासायनिक हथियारों के इस्तेमाल के खिलाफ उठाया गया न्यायोचित, वैध और उपयुक्त जवाब है।’

About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>