Published On: Thu, Feb 15th, 2018

PNB घोटालाः नीरव मोदी के 9 ठिकानों पर ईडी के छापे

देश की दूसरी बड़ी सरकारी बैंक पंजाब नेशनल बैंक के साथ 11,400 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का खुलासा होने से हड़कंप मच गया है। इस बीच बैंक ने आरोपी नीरव मोदी और मेहुल के खाते फ्रॉड घोषित कर दिए हैं। यह दोनों रिश्ते में मामा-भांजे हैं।

बैंक द्वारा अरबपति हीरा कारोबारी नीरव मोदी के खिलाफ सीबीआई से इस धोखाधड़ी की शिकायत कर जांच का आग्रह किए जाने के बाद सीबीआई ने एफआईआर दर्ज कर ली है। इस बीच खबर है कि प्रवर्तन निदेशालय ने नीरव मोदी के ठिकानों पर छापा मारा है। ईडी ने सूरत में तीन, मुंबई में 4 और दिल्ली में दो ठिकानों पर छापा मारा है। मोदी ने धोखाधड़ी कर मुंबई की एक शाखा से साख पत्र हासिल किए और विदेशों में अन्य भारतीय बैंकों से क्रेडिट हासिल कर ली। बैंक ने अपने 10 अफसरों को सस्पेंड कर दिया है।

नीरव मोदी के हीरे जड़ित आभूषण विश्वभर की सेलेब्रिटीज में लोकप्रिय हैं। उनके खिलाफ सीबीआई नई एफआईआर दर्ज कर सकती है। सीबीआई अफसरों ने बताया कि मंगलवार को पीएनबी की ओर से दो शिकायतें मिलीं। इनमें 11,400 करोड़ रुपए (1.77 अरब डॉलर) के धोखाधड़ीपूर्ण लेन-देन का आरोप है। वित्त मंत्रालय में वित्तीय सेवा सचिव राजीव कुमार ने कहा लगता है यह इकलौता ऐसा केस है, इसका असर अन्य बैंकों पर होने के आसार नहीं हैं। मंत्रालय ने त्वरित कदम उठाते हुए सीबीआई व ईडी को केस सौंप दिया है, ताकि त्वरित कार्रवाई हो सके।

मुंबई की शाखा को लगा चूना

कुमार ने बताया कि बैंक की मुंबई स्थित एक शाखा से कुछ चुनिंदा खाताधारकों ने अवैध व धोखाधड़ीपूर्ण लेन-देन किया। इसके आधार पर इन ग्राहकों को अन्य बैंकों ने विदेशों में पैसा उपलब्ध करा दिया।

दूसरी बैंकों पर पड़ेगा असर

पीएनबी ने अपनी शिकायत में दूसरी बैंकों के नामों का उल्लेख नहीं किया है। लेकिन यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, इलाहाबाद बैंक और एक्सिस बैंक ने इन ग्राहकों को पीएनबी द्वारा जारी लेटर्स ऑफ अंडरटेकिंग्स (एलओयू) के आधार क्रेडिट मुहैया करा दी। एलओयू एक बैंक शाखा द्वारा दूसरी बैंक की शाखा को जारी किया जाता है। इसके दम पर विदेशी शाखाएं खरीददार को क्रेडिट की सुविधा उपलब्ध करा देती हैं। इस मामले में विदेशों में स्थित बैंक शाखाएं भी जांच के घेरे में आ सकती हैं।

गीताजंलि, गिन्नी व नक्षत्र ज्वेलर्स जांच के घेरे में

नीरव मोदी के अलावा इस मामले में तीन अन्य ज्वेलर्स-गीताजंलि, गिन्नी और नक्षत्र भी सीबीआई व ईडी की जांच के घेरे में आ गए हैं। सरकारी बैंक के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इन ज्वेलरों ने विभिन्न बैंकों से तालमेल कर पैसों का लेन-देन किया है। इन कंपनियों की ओर से अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है।

पीएनबी का शेयर 10 फीसदी नीचे

पीएनबी ने बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को इस धोखाधड़ी व अवैध लेन-देन की सूचना दे दी है। यह घोटाला उजागर होने के बाद बुधवार को बीएसई में पीएनबी का शेयर 9.8 फीसदी टूटकर 145.80 रुपए का रह गया।

280 करोड़ की धोखाधड़ी में ईडी ने दर्ज किया केस

सीबीआई ने नीरव मोदी, उनकी पत्नी एमी, भाई निशाल व मेहुल चौकसी के खिलाफ 16 जनवरी को 280.7 करोड़ रु. की धोखाधड़ी का केस दर्ज किया था। यह भी पीएनबी से कपटपूर्वक एलओयू हासिल करने का था। सीबीआई की एफआईआर के आधार पर बुधवार को ईडी ने भी मोदी व अन्य के खिलाफ केस दर्ज कर लिया।

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

%d bloggers like this: