Published On: Tue, Feb 6th, 2018

Photo from Crime Flash

मुरादाबाद नगर निगम का और एक सबसे बड़ा घोटाला सामने आ रहा है करीब 30 से 50 कर्मचारी जोकि स्थाई हैं वह अपने घर पर बैठे ही इस्पेक्टर के जरिए सैलरी पा रहे हैं यह लोग काफी समय से ना ही फील्ड में जाते हैं सिर्फ महा पूरा होते ही अपनी सैलरी पा लेते हैं इंस्पेक्टरों द्वारा सैलरी प्रदान हो जाती है और देखना यह होगा कि इस खबर के चलने के बाद क्या नगर निगम प्रशासन अपनी नींद उड़ पाता है या नहीं यह तो खेत देख देखने वाली बात होगी लेकिन उन कर्मचारियों के नाम इस प्रकार हैं क्योंकि यह कर्मचारी शायद अपने आप में राजनीति और प्रशासनिक ताकत भी रखते हैं जो कि घर बैठे ही बैठे नगर निगम का पैसा पा रहे हैं राजेश राजेश सन ऑफ स्वर्गीय छेदीलाल स्थाई कर्मचारी नगर निगम गोदाम प्रेम प्रकाश सन ऑफ हरप्रसाद स्थाई कर्मचारी सफाई गोदाम नगर निगम सरोज पन्नालाल स्थाई कर्मचारी वार्ड नंबर 6 नगर निगम मुरादाबाद गीता भारत नगर निगम आउटसोर्सिंग कर्मचारी दीपक कलुआ वार्ड नंबर 50 नगर निगम मुरादाबाद लक्ष्मी आस बाबू आउटसोर्सिंग कर्मचारी वार्ड नंबर 50 गीता निर्मल आउटसोर्सिंग कर्मचारी वार्ड नंबर 6 बटा 5 सुलोचना नंदकुमार नगर निगम बाबू कपिल श्याम बाबू और सो सिंह कर्मचारी।

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

%d bloggers like this: