Published On: Sun, May 13th, 2018

एप्‍पल वॉच को लेकर Jio ने Airtel के खिलाफ की शिकायत, बताया नियमों का उल्‍लंघन

रिलायंस जियो ने भारती एयरटेल के खिलाफ दूरसंचार विभाग में शिकायत दर्ज कराई है। जियो ने इसमें आरोप लगाया गया है कि एयरटेल एप्पल वॉच सीरीज 3 पर ई-सिम सेवाओं की पेशकश कर रही है जो लाइसेंस नियमों का उल्लंघन है। जियो ने इस सेवा को तत्काल बंद करने की मांग की है।

विभाग को लिखे पत्र में जियो ने कहा, ‘एप्पल वॉच सीरीज 3 सेवा की पेशकश एयरटेल द्वारा यूनिफाइड लाइसेंस शर्तों का उल्लंघन कर की जा रही है।’ इस बारे में भारती एयरटेल को भेजे ई-मेल का तत्काल जवाब नहीं मिल पाया। रिलायंस जियो और भारती एयरटेल दोनों 11 मई से अपने बिक्री चैनलों के माध्यम से एप्पल वॉच सीरीज 3 की पेशकश कर रही हैं

एयरटेल ने जरूरी नेटवर्क नोड नहीं लगाया
एप्‍पल वॉच और आईफोन का सब्‍सक्राइबर एक ही नंबर का उपयोग कर सकता है और वह ई-सिम के जरिए आईफोन व एप्‍पल वॉच का इस्‍तेमाल अलग-अलग कॉल करने के लिए कर सकता है। यानी, सब्‍सक्राइबर दोनों डिवाइसों पर कॉल, डाटा और एप्लिकेशन का भी उपयोग कर सकता है। ई-सिम एक डेडिकेटेड नेटवर्क नोड के जरिए आईफोन के सिम से पेयर होती है। जियो का आरोप है कि एयरटेल ने भारत में ई-सिम के जरिए जरूरी नोड नहीं सेटअप किया है और अभी वह एप्‍पल वॉच सीरीज 3 की सर्विस जिस नोड के जरिए दे रही है वह भारत के बाहर स्थित है, जोकि लाइसेंस की शर्तों का उल्‍लंघन है।

ई-सिम के परिचय स्थल के लिए प्रयोग में लाए जाने वाले नोड (संपर्क बिंबदु) में नेटवर्क और प्रयोगकर्ता की जानकारी शामिल होती है। इसमें आपरेटर की पचाहन, सिम का विवरण, पिन, सिम की फाइलों को दूर बैठ कर नियंत्रित करने की व्यवस्था भी शामिल होती है।

देश के बाहर नहीं लगा सकती सर्वर 
जियो ने आरोप लगाया है कि एयरटेल ने इस मामले में ई-सिम के प्रावधान के लिए नोड भारत के अंदर स्थापित नहीं किए हैं। कंपनी का कहना है कि एयरटेल के एप्पल वॉच सीरीज 3 सेवाओं के लिए इस्तेमाल किए जा रहे जरूरी सर्वर विदेश में लगाए हैं, जो लाइसेंस की शर्तों का खुला उल्लंघन है। यूनिफाइड लाइसेंस के अनुसार कोई भी दूरसंचार कंपनी अपने सर्वर देश के बाहर नहीं लगा सकती।

मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली कंपनी का कहना है भारती एयरटेल को वैध तरीके से रोक या निगरानी का काम नहीं किया है। एयरटेल द्वारा सेवा शुरू करने से पहले इस तरह का महत्वपूर्ण कार्य नहीं करना राष्ट्रीय सुरक्षा हितों से समझौता है। जियो ने यह भी आरोप लगाया है कि एयरटेल ने नेटवर्क के एक महत्वपूर्ण हिस्से को देश से बाहर लगाने का कार्य जानबूझकर किया है।

भारती एयरटेल के खिलाफ हो एक्‍शन 
डीओटी से अपनी शिकायत में जियो ने कहा, ”हम यह निवेदन करते हैं कि मेसर्स भारती एयरटेल लिमिटेड के खिलाफ विभाग सख्‍त एक्‍शन ले और लाइसेंस नियमों के तहत सख्‍त पेनल्‍टी लगाए। इसके अलावा, एयरटेल से तत्‍काल यह सर्विस बंद करने और लाइसेंस की शर्तों का पालन करने के बाद ही सर्विस शुरू करने का निर्देश दे।”

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Loading...