Published On: Mon, Oct 23rd, 2017

गुजरात में बीजेपी 150 सीटें जीतेगी-योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या विवाद पर बड़ा बयान दिया है. एक निजी चैनल  के साथ खास बातचीत में योगी ने कहा कि इस मुद्दे पर दोनों पक्ष आपस में सुलह के संकेत दे रहे हैं. ऐसा संदेश मेरी जानकारी में भी आया है, लेकिन पिछले रिकॉर्ड को देखते हुए हमने कहा कि पहले दोनों पक्ष खुद बैठकर सुलह का अंतिम मसौदा बनाएं. उन्होंने कहा कि अलग-अलग संदेशों से बात नहीं बनेगी. दोनों पक्ष एक साथ आएं तो सरकार पहल करेगी. गुजरात चुनाव पर योगी आदित्यनाथ ने दावा किया कि बीजेपी 150 सीटें जीतेगी.

‘जनभावना और आस्था का सम्मान हो’

पिछले अवसरों का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले भी जब सरकार ने दोनों पक्षों को बैठाकर सुलह करने की कोशिश की, तो कोई न कोई पक्ष किसी न किसी बहाने से अड़ंगा लगाता रहा. कई बार तो बातचीत के दौरान एक पक्ष भाग गया, एक पक्ष कहता है अदालत का जो भी निर्णय होगा हम मानेंगे. 2010 में भी एक फैसला आया. लेकिन, दूसरा पक्ष अदालत चला गया. ऐसे में सरकार ऐसा कोई काम नहीं करना चाहती जिससे यह नौबत आए.

उन्होंने कहा कि हम भी चाहते हैं कि इसका कोई हल निकले. जन भावनाओं का सम्मान हो, आस्था का सम्मान हो. चाहे वह आस्था आपकी हो या मेरी हो, किसी की भी हो  लेकिन, अगर वह मामला अदालत में है, तो हमें अदालत के फैसले का भी सम्मान करना पड़ेगा.

5 दिसंबर से कोर्ट की सुनवाई का इंतजार

योगी ने कहा कि हिंदू समाज हमेशा चाहता है कि बातचीत से इसका समाधान निकले और संवाद से बेहतर कोई समाधान नहीं. लेकिन इस समय मामला सर्वोच्च न्यायालय में है और 5 दिसंबर से प्रतिदिन सुनवाई होगी हमें इसका इंतजार करना चाहिए.

मुख्यमंत्री ने कहा कि यूपी सरकार इसमें कहीं कोई पार्टी नहीं है. अगर दोनों पक्ष आपसी बातचीत में किसी निष्कर्ष पर पहुंचते हैं और उत्तर प्रदेश सरकार से सहयोग की बात करते हैं तो हम इस पर तैयार हैं, लेकिन जब तक दोनों पक्ष सहमत नहीं हैं तब तक हमें न्यायालय का इंतजार करना पड़ेगा और न्यायालय जो फैसला करेगा उसे स्वीकार करना होगा.

अयोध्या-चित्रकूट में दिवाली-महाआरती के खर्चे पर सफाई

अयोध्या में दिवाली और चित्रकूट में महाआरती के खर्चे के सवाल पर योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आयोजन में टैक्सपेयर का पैसा नहीं लगा. साधु संतों और आम लोगों ने अपनी भागीदारी से अयोध्या की दीवाली और चित्रकूट के आयोजन को भव्य बनाया. इतना बड़े आयोजन का मकसद अपनी विरासत का संरक्षण और संवर्धन करना है और यह काम करना मेरा कर्तव्य है.

उन्होंने कहा कि अयोध्या, चित्रकूट या वाराणसी में हो रहे आयोजनों का मकसद अपनी विरासत का संरक्षण और संवर्धन करना है. यह सिर्फ मेरा ही नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश के लोगों का नैतिक दायित्व है और मेरा कर्तव्य है और मैं अपने राजकीय कर्तव्यों का निर्वाह कर रहा हूं.

‘धार्मिक आयोजनों में टैक्सपेयर का पैसा नहीं’

मुख्यमंत्री ने कहा कि इन आयोजनों में टैक्सपेयर के पैसे लग रहे हैं. मैं इससे सहमत नहीं हूं. हम तो जनसहयोग से सारे कार्यक्रम कर रहे हैं, अयोध्या का इतना बड़ा आयोजन हुआ. क्या मीडिया को विज्ञापन दिया गया था? मीडिया ने स्वयं ही उसे हाइलाइट किया.

उन्होंने कहा कि आम लोगों का सहयोग मिला, संतों का सहयोग मिला, सभी लोगों का सहयोग मिला, इन सभी लोगों ने मिलकर वहां के लोगों को जोड़ा, अयोध्या के लोग कोई बाहर से बुलाए गए लोग नहीं थे. चित्रकूट में कोई बाहर से नहीं आया, इसे मानिए कि यहां जो पर्यटन विकसित होगा. संभावनाएं विकसित होगी उससे हजारों लोगों को रोजगार मिलेगा.

गुजरात चुनाव में जीतेंगे 150 सीटें

योगी ने कहा कि गुजरात में 150 का लक्ष्य रखा है और हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष ने लक्ष्य रखा है तो यह जरूर होगा, क्योंकि राष्ट्रीय अध्यक्ष व्यावहारिक आदमी हैं और जो बोलते हैं जो आइडिया प्रस्तुत करते हैं वह व्यावहारिक होता है. पार्टी अध्यक्ष ने 150 प्लस कहा है तो हम उतनी सीटें जीतेंगे.

गुजरात चुनाव और राहुल की सक्रियता पर बोले योगी..

गुजरात में युवाओं के महागठबंधन का कोई असर नहीं पड़ेगा. उत्तर प्रदेश में भी दो युवाओं ने चुनौती दी थी. आज कहां हैं? हर व्यक्ति जानता है और मुझे लगता है कि गुजरात की जनता ने गुजरात के विकास की गौरव गाथा को देखा है. प्रधानमंत्री मोदी ने गुजरात में विकास की गौरव गाथा लिखी है.

राहुल गांधी की यही समस्या है कि वह सिर्फ चुनाव में सक्रिय रहते हैं. देश में कहीं चुनाव होंगे तो राहुल गांधी सिर्फ 15 दिनों तक सक्रिय रहते हैं फिर बाकी साढ़े 11 महीने वहां

झांकने नहीं जाते. तीन पीढ़ियों से राहुल का परिवार अमेठी का नेतृत्व कर रहा है, लेकिन आजतक वहां डीएम ऑफिस या मुख्यमंत्री कार्यालय का दफ्तर तक नहीं बन पाया. उन्होंने सिर्फ विनाश लीला लिखी है.

विकास के पागल होने के बयान पर भड़के योगी

गुजरात में कांग्रेस के चुनावी नारे ‘विकास पागल हो गया है…’ पर योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उन्होंने कभी विकास तो किया नहीं, इसलिए कह रहे हैं कि विकास पागल हो गया है. इनके मन का जो पागलपन है वह उस विकास को देखकर पागल हो गया.

योगी ने कहा कि गुजरात का विकास पागल नहीं हुआ. वहां के विकास ने देश को समृद्धि दी. वहां के पुरुषार्थ से देश और दुनिया में उसकी नई छवि बनी है. गुजरात के विकास को पागलपन करार देना गुजरात का अपमान है, वहां की युवाओं का अपमान है. वहां के पुरुषार्थ का अपमान है.

राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विकास पागल नहीं हुआ है. बल्कि राहुल गांधी की मानसिकता पागल की हो गई है.

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

%d bloggers like this: