Published On: Mon, Jan 1st, 2018

दक्षिण भारत में भाजपा के लिए तुरूप का पत्ता साबित हो सकते हैं रजनीकांत

तमिलनाडु के सुपरस्टार रजनीकांत ने राजनीति में एंट्री करके दक्षिण भारत के क्षेत्रीय दलों के साथ-साथ कांग्रेस-भाजपा जैसे राष्ट्रीय दलों के नेताओं की धड़कनें तेज कर दी हैं। रजनीकांत में भीड़ इकट्ठी करके जनसभा को विशाल रैली बनाने का सामथ्र्य है। भाजपा इस मामले में खुद को लकी मानती हैं क्योंकि राजनीतिक क्षेत्रों में ये बात पहले से चल रही है कि रजनीकांत पीएम मोदी के करीबी हैं।

अगर रजनीकांत भाजपा से जुड़ते हैं या फिर उनकी प्रस्तावित पार्टी भाजपा को समर्थन करती है तो भाजपा के लिए रजनीकांत तुरूप का पत्ता साबित होंगे। कांग्रेस और दक्षिण भारत के क्षेत्रीय दलों में सेंधमारी में जुटी भाजपा के लिए ये काफी बड़ा बदलाव होगा। ये तो विदित है कि जयललिता के जाने के बाद ही भाजपा वहां सियासी घुसपैठ करने में कामयाब हो गई। वहीं माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) नेता सीताराम येचुरी और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) नेता डी. राजा का कहना है कि रजनीकांत अपनी नीतियों व कार्यक्रमों के बारे में बताएं।

येचुरी के शब्दों में,  “अच्छी बात है कि रजनीकांत राजनीति में शामिल हो रहे हैं। हालांकि उनको अपनी नीतियों, योजनाओं व कार्यक्रमों के बारे में घोषणा करनी चाहिए।”यह हितकर होगा कि ज्यादा से ज्यादा ईमानदार और अच्छे व्यक्ति राजनीति में आएं। भाकपा के राष्ट्रीय सचिव डी. राजा ने भी येचुरी के विचारों का समर्थन किया। राजा ने कहा, “रजनीकांत भारत के नागरिक हैं। वह राजनीति में शामिल हो सकते हैं। तमिलनाडु बीजेपी के सह समन्वयक और कर्नाटक के वरिष्ठ विधायक सीटी रवि कहते हैं कि , ‘बीजेपी हमेशा से ही रजनीकांत के साथ प्रसन्न रही है और हम उनके कार्यों को हमेशा से ही समर्थन देते रहे हैं।’ उन्होंने कहा, ‘बीजेपी राजनीतिक छूआछूत को नहीं मानती और किसी भी ईमानदार व्यक्ति का हमारे यहां स्वागत है।’ कई मौकों पर रजनीकांत मोदी की तारीफ करते रहे हैं और उन्हें प्रो-मोदी माना जाता हैं, उनके राजनीति में आने के फैसले से बीजेपी को दक्षिण भारत में उम्मीद की किरण जागी है।

rajnikant के लिए इमेज परिणाम

 

rajnikant के लिए इमेज परिणाम

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

%d bloggers like this: