Published On: Mon, Oct 16th, 2017

अमेरिकी पोर्न मैगजीन ने ट्रंप के खिलाफ इस काम के लिए ऑफर किए 65 करोड़ रुपये

वॉशिंगटन। व्हाइट हाउस के अंदर ही नहीं बल्कि बाहर भी अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ बहुत कुछ सही नहीं चल रहा है। अमेरिकी पॉर्न मैगजीन ‘हसलर’ के पब्लिशर लैरी फ्लिंट ने राष्ट्रपति पर महाभियोग लगाने के लिए सबूत देने वाले को 10 मिलियन डॉलर, यानि लगभग 65 करोड़ रुपये इनाम देने का ऐलान किया है। इस विज्ञापन के बाद लैरी फ्लिंट ट्विटर पर जबरदस्त ढंग से ट्रेंड कर रहे हैं। ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी अमेरीकी ने अपने राष्ट्रपति को हटाने के लिए इस तरह का विज्ञापन दिया है। लैरी फ्लिंट ने यह विज्ञापन ‘वॉशिंगटन पोस्ट’ में पब्लिश किया है। लैरी फ्लिंट ने इस विज्ञापन की वजह बताते हुए कहा है कि डोनाल्ड ट्रंप पर महाभियोग लगाया जाना चाहिए। उन्होंने ट्रंप एडमिनिस्ट्रेशन पर आरोप लगाते हुए कहा कि रूसी एजेंट्स ने मिलकर चुनावों को प्रभावित करने का काम किया था। हालांकि, फ्लिंट ने साथ में यह भी कहा, ‘ऐसा पहली बार नहीं हुआ है, राजनेताओं के खिलाफ सूचनाओं को लीक करने वालों को मैं इस प्रकार की नकद पुरस्कार की घोषणाएं कर चुका हूं।’ इससे पहले फ्लिंट ने मिट रोमनी के टेक्स रिटर्न को लेकर सूचनाओं को लीक करने पर भी मिलियन डॉलर ऑफर कर चुके हैं। फ्लिंट ने 1998 में रिपब्लिकन कांग्रेस के बॉब लिविंग्स्टन के बारे में एक्स्ट्रा मैरिटल अफैयर्स को लेकर एक विज्ञापन दिया था, जिसके बाद उन्हें इस्तीफा भी देना पड़ा था। फ्लिंट ने विज्ञापन में ट्रंप को देश के राष्ट्रपित के तौर पर मिली तमाम शक्तियों को संभालने के लिए भयानक रूप से अयोग्य बताया है। हालांकि, उन्होंने साथ में यह भी कहा कि राष्ट्रपति पर महाभियोग लगाना एक गड़बड़ और विवादास्पद मामला होगा, लेकिन आने वाले तीन साल तो और भी ज्यादा अस्थिर और बदतर है होने वाले हैं। लैरी फ्लिंट ने अपने विज्ञापन की फोटो ट्वीट कर कहा ‘तो मैंने यह करने का निर्णय लिया है, देखते हैं क्या होता है’। लैरी फ्लिंट 2016 अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रैटिक पार्टी की उम्मीदवार हिलरी क्लिंटन के लिए प्रचार करते हुए नजर आए थें।

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>