Published On: Fri, Feb 21st, 2020

भूमि पूजन के लिए पीएम मोदी जाएंगे अयोध्या, राम मंदिर ट्रस्ट को दिया भरोसा

Share This
Tags

राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष नृत्यगोपाल दास, महामंत्री चंपत राय और ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष गोविंद देव गिरि ने गुरुवार (20 फरवरी) की शाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनके आवास 7, लोक कल्याण मार्ग पर मुलाकात की। प्रधानमंत्री ने उन्हें अयोध्या जाने का आश्वासन दिया। मुलाकात के दौरान मंदिर निर्माण में भूमिका के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया गया और विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की गई। मोदी ने ट्रस्ट के सदस्यों का स्वागत किया और पट्टा पहनाकर उनका अभिवादन किया।

ट्रस्ट की तरफ से पीएम मोदी को ट्रस्ट की पहली बैठक के दौरान हुई बातों की जानकारी दी गई। ट्रस्ट के सदस्यों ने शिलान्यास के मुहूर्त पर मोदी को अयोध्या आने का न्योता दिया। प्रधानमंत्री से मिलने के बाद ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास ने मीडिया से कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी से कहा है कि अब ज्यादा प्रतीक्षा का समय नहीं है, लिहाजा मंदिर का निर्माण अब तेजी तेज गति से होनी चाहिए।

महंत ने कहा, “हम लोगों ने पीएम से कहा है कि दिव्य और भव्य राम मंदिर जल्द से जल्द बने, जनता ने इसलिए आपको प्रधानमंत्री बनाया है। आप संतों और जनता की इच्छा पूरी करें। इसके जवाब में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि वो चाहते हैं कि जल्द और भव्य राम मंदिर बने।”

AAP विधायक सौरभ भारद्वाज ने छेड़ा अयोध्या के राम मंदिर में हनुमान मूर्ति का राग

नृत्यगोपाल दास का कहना था कि उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी से कहा है कि भगवान राम टाट में हैं। इसलिए जल्द से जल्द भव्य और विशाल राम मंदिर बननी चाहिए। महंत के मुताबिक, जब उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को शिलान्यास और भूमि पूजन समारोह के लिए अयोध्या आने के लिए निमंत्रित किया तो प्रधानमंत्री का जवाब था कि वह शीघ्र ही हो अयोध्या आएंगे।

प्रधानमंत्री मोदी ने बातचीत के क्रम में नृत्यगोपाल दास को याद दिलाया कि कैसे उनकी मुलाकात बड़ौदा में हुई थी। कुछ पुरानी यादें भी उन्होंने ट्रस्ट के सदस्यों के साथ साझा की। ट्रस्ट की अगली बैठक 3 और 4 मार्च को अयोध्या में होगी, जहां मंदिर निर्माण की तिथि और अन्य जरूरी फैसले लिए जाएंगे।

अयोध्या की बैठक में होगा राम मंदिर निर्माण की तारीख का ऐलान
श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के नए अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास ने गुरुवार को कहा कि मंदिर निर्माण शुरू करने की तिथि पर ट्रस्ट की दूसरी बैठक में विचार होगा। यह बैठक मार्च में पहले हफ्ते में अयोध्या में होगी। बैठक में सभी ट्रस्टियों की सहमति स

इस बीच, विहिप के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा कि रामनवमी के मौके पर 25 मार्च से 8 अप्रैल तक ‘रामोत्सव’ मनाया जाएगा। इस उत्सव के दौरान विहिप कार्यकर्ता देशभर के 2.75 लाख गांवों में पहुंचेंगे जिन्होंने राम जन्मभूमि आंदोलन में योगदान दिया था।

न्यास की दिल्ली में बुधवार (19 फरवरी) को हुई बैठक में महंत नृत्य गोपालदास को राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास का अध्यक्ष प्रबंध, विहिप के चंपत राय को महासचिव एवं पूर्व वरिष्ठ नौकरशाह नृपेन्द्र मिश्रा को भवन निर्माण समिति का चेयरमैन बनाया गया है। स्वामी गोविंददेव गिरि जी को कोषाध्यक्ष बनाया गया है। अयोध्या में भारतीय स्टेट बैंक की शाखा में न्यास का बैंक खाता खोलने का निर्णय किया गया है।

राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद मामले में उच्चतम न्यायालय के पिछले साल 9 नवंबर को दिए गए ऐतिहासिक फैसले के बाद नरेन्द्र मोदी सरकार ने इस 15 सदस्यीय ट्रस्ट का गठन किया था। फैसले में विवादास्पद स्थल पर मंदिर के निर्माण की अनुमति दी गई थी। बहुत से हिंदुओं का मानना है कि इसी स्थल पर भगवान राम का जन्म हुआ था। ट्रस्ट के गठन की घोषणा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोकसभा में की थी।

About the Author

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>