मुख्य रास्ता जलभराव के कारण बना तालाब, ग्र ामीणों का निकलना हुआ दुशवार। लगातार शिकायतो ं के बाद भी प्रशासन का नही इधर ध्यान ।

मुरादाबाद

छजलैट ब्लॉक के बरखेड़ा बसन्तपुर उर्फ दयानाथपुर का में रास्ता ग्रामीणों के घरों व बरसात के पानी के कारण मुख्य रास्ता जो कि पहले से ही पक्का डावर की सड़क हैं ।सड़क के किनारे नालिया न होने की वजह से इकट्ठा हो रहा है ।वर्तमान में इस पर एक फिट के लगभग पानी खड़ा है ।पानी के भराव के कारण रास्ते के किनारे बने मकानों में दरारें आ गयी है ।
जो नालिया पहले से बनी है उनकी कभी सफाई नही होती ।ग्रामीणों के कहेनुसार व ग्राम प्रधान सुषमा से इसकी शिकायत लगातार करते चले आ रहे है ।लेकिन उसके कान व जू नही रेंगती और शासन द्वारा योजनाओ का लाभ भी नाम मात्र ही मिल रहा है ।जो मिलता लाभ मिलता है, वो भी प्रधान के अपनो को ही दिलवाता है ।अन्य को नही ।
ग्राम की नालियो की साफ सफाई भी सफाई कर्मचारियों द्वारा प्रधान के मोहल्ले में ही कराई जाती है ।।रास्ते के किनारे लगे सरकारी हेंड पम्प की हालत भी दयनीय बनी हुई है ।जिसके चारों और भी गन्दे पानी भरा हुआ है । कबरेज के दौरान पहुचे प्रधान पति सुनील कुमार उर्फ ढिल्लू से जब जल भराब के बारे में जानना चाहा तो उसने अशब्दो का प्रयोग करते हुए कैमरा बन्द करने को कहा । प्रधान पति की इस तरह की दबंगाई से साफ लगता है ।कि ग्राम में विकास के प्रति कितना जागरूक है ।और कितना बिकास कराया गया है ।
ग्रामीण सम्बन्धित अधिकारियो के साथ मुख्य मंत्री द्वारा बनाये गए जनसुनवाई पर भी करते चले चले आ रहे है । लेकिन इनको आस्वाशन के अतिरिक्त कुछ नही मिलता और इस जल भराव के कारण भयंकर बीमारियो का होने का खतरा बना हुआ है ।
अब सोचने वाली बात ये है ।की प्रधानपति की दबंगाई के चलते व शिकायतों के बाबजूद भी समस्या का समाधान नही होगा तो ये कहा जाकर अपनी पीड़ा को बयां करे ताकि इनको इस जल भराब से मुक्ति मिले ।

Loading...