Published On: Sat, Jun 2nd, 2018

सीएम नीतीश ने इस वजह से एक बार फिर केंद्र सरकार को कहा-थैंक्यू

जीएसटी लागू होने के बाद से ही बिहार सरकार की धार्मिक संस्थानों द्वारा संचालित लंगर की सामग्रियों को जीएसटी मुक्त कराने की मांग को केंद्र सरकार ने अब अपनी स्वीकृति दे दी है। जिसके लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्र सरकार को धन्यवाद दिया है और आभार व्यक्त किय है।

दरअसल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का तर्क था कि धार्मिक संस्थानों द्वारा चलाये जा रहे लंगर के लिए खरीदी जा रही सामग्री पर लगाये जा रहे जीएसटी के कारण धार्मिक संस्थानों का खर्च ज्यादा होता है जिससे धार्मिक संस्थानों के साथ-साथ आम लोगों को भी कठिनाई होती है।

धार्मिक संस्थानों द्वारा चलाये जा रहे लंगर की इन्हीं सामग्रियों को जीएसटी से मुक्त करने के लिए बिहार सरकार ने दिनांक-12.04.2018 को केन्द्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली को पत्र लिखकर अनुरोध किया था कि इन वस्तुओं को जीएस टी से मुक्त कर दें।

इस अनुरोध को मंजूरी देते हुए केन्द्र सरकार ने ‘सेवा भोज योजना‘ के तहत धार्मिक संस्थानों द्वारा मुफ्त भोजन कराने के लिए खरीदे गए सामान पर वसूले गए जीएसटी को लौटाने का फैसला किया है। इससे धार्मिक संस्थानों तथा आम लोगों को सहूलियत होगी।

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Loading...