Published On: Wed, May 16th, 2018

रांची जेल से बेल पर रिहा हुए लालू, पटना एयरपोर्ट पर राजद कार्यकर्ताओं ने किया स्‍वागत

Share This
Tags

राजद अध्‍यक्ष लालू प्रसाद यादव देर शाम अंतरिम जमानत पर रिहा होकर फ्लाइट से पटना पहुंचे। पटना एयरपोर्ट पर राजद कार्यकर्ताओं ने उनका स्‍वागत किया। इसके पहले चारा घोटाला के तीन मामलों में बेल बांड भरने संबंधित कानूनी प्रक्रिया बुधवार को पूरी की गई।
बता दें कि लालू यादव को यह जमानत इलाज कराने के लिए मिली है। इस दौरान वे न तो किसी राजनीतिक कार्यक्रम में शामिल हो सकते हैं और न हीं किसी तरह की राजनीतिक बयानबाजी कर सकते हैं।
इसके पहले बेटे तेजप्रताप की शादी के लिए मिले पेरोल के बाद राजद सुप्रीमो सोमवार की रात रांची के होटवार जेल लौटे थे। जेल में उनकी दो रातें बेचैनी में कटीं। रिहाई के बाद अब वे अपने इलाज के लिए छह सप्‍ताह के लिए बाहर आ जाएंगे। उनके इलाज की शुरुआत मुंबई से होगी।
थोड़ी देर के लिए पासपोर्ट को लेकर अटक गया था मामला
दुमका और देवघर कोषागार से अवैध निकासी से संबंधित चारा घोटाला मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद का बेल बांड भराने से संबंधित कार्यवाही पासपोर्ट जमा करने को लेकर कुछ देर तक अटक गया था। सीबीआई के विशेष न्यायाधीश शिवपाल सिंह की अदालत में उन्हें पासपोर्ट जमा करने की बात कही गई। इसके लिए जेल से लालू प्रसाद द्वारा लिखकर भेजे गये आवेदन को कोर्ट में जमा किया गया। इसमें लालू प्रसाद ने कहा था कि उनकी ओर से पासपोर्ट दुमका कोषागार से अवैध निकासी से संबंधित चारा घोटाला कांड संख्या आरसी 38ए/96 में ट्रायल के दौरान ही जमा कर दिया गया था। कोर्ट ने इसपर सीबीआइ से रिपोर्ट मांगी। सीबीआइ द्वारा यह बताया गया कि लालू प्रसाद का पासपोर्ट जमा है, जो कोर्ट के रिकार्ड में ही है। इसके बाद रिलीज़ आर्डर जारी किया गया।
लालू के बने हैं छह जमानतदार
लालू के चारा घोटाला के अलग-अलग तीन मामलों में छह बेलर (जमानतदार) बनाए गए हैं। देवघर मामले में चारा घोटाला कांड संख्या आरसी 64ए/96 में राजद के प्रदेश प्रवक्ता व झारखंड राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग के पूर्व सदस्य डॉ. मनोज कुमार व हजारीबाग के राजद कार्यकर्ता भुनेश्वर पटेल बेलर बनाए गए हैं।
दुमका कोषागार से अवैध निकासी से संबंधित चारा घोटाला कांड संख्या आरसी 38ए/96 में राजद के पूर्व विधायक जनार्दन पासवान और इटकी निवासी व राजद कार्यकर्ता मसूद आलम जमानतदार बने हैं। इन दोनों मामले में लालू प्रसाद को सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश शिवपाल सिंह की अदालत से सजा सुनाई गई थी। इसलिए उनकी अदालत में ही बेल बांड भरा गया।
चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी से संबंधित चारा घोटाला कांड संख्या 68ए/96 में राजद के प्रदेश अध्यक्ष अन्नपूर्णा देवी और पूर्व विधायक संजय कुमार सिंह यादव जमानतदार बनाए गए हैं।
जेल से सीधे एयरपोर्ट पहुंचे लालू
लालू प्रसाद का टिकट इंडिगो विमान से था। लालू रांची से सीधे पटना पहुंचे। लालू प्रसाद के करीबी राजद विधायक भोला यादव ने कहा कि लालू का पटना में तबतक इलाज होगा, जबतक कि बाहर के डॉक्टर का एप्वायन्‍टमेंट नहीं मिल जाता है। भोला यादव ने कहा कि लालू प्रसाद का हाईकोर्ट से प्रोविजनल बेल स्वास्थ्य जांच के लिए मिला है। उनकी पहली प्राथमिकता इलाज है। उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद को हृदय, किडनी, ब्लड शुगर, बैक पेन, चक्कर आना जैसी 16  बीमारियां हैं।
इलाज के लिए पहले जाएंगे मुंबई 
राजद प्रमुख लालू प्रसाद को इलाज के लिए सबसे पहले मुंबई ले जाया जाएगा, जहां उनके दिल का इलाज कराया जाएगा। तकरीबन तीन साल पहले मुंबई के एशियन हार्ट अस्पताल में लालू प्रसाद के दिल का ऑपरेशन हो चुका है। तब उन्हें लंबे समय तक अस्पताल में रहना पड़ा था और पूरी तरह स्वस्थ होकर वे बाहर निकले थे। राबड़ी देवी की इच्छा पुन: उसी अस्पताल में लालू का इलाज कराने की है। अन्य बीमारियों के इलाज के लिए उन्हें बाद में दिल्ली के मेदांता या अन्य किसी अस्पताल में भर्ती कराया जा सकता है।

Loading...

About the Author

-

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Loading...