Published On: Wed, May 16th, 2018

प्रधान की हठधर्मी के आगे रुका ग्राम का विक ास,ग्रामीणों दे रहे है ,बिकास सम्बन्धित लगाता र शिकायती पत्र फिर भी अधिकारी बने हुए हैं अनज ान ।।

मुरादाबाद

मुरादाबाद ब्लॉक के ग्राम अक्का शाहपुर में ग्राम प्रधान की हठधर्मी के चलते बिकास नही हो रहा है ।
प्रदेश में ग्राम पंचायती चुनाव को हुए लगभग 2 साल से ज्यादा का समय हो चुका है ।
इन चुनावों के बाद से हर ग्राम पंचायत के विकास कार्यो के लिए शासन स्तर से पैसा उपलब्ध कराया जाता है ,।जिसका उपयोग ग्राम प्रधान सचिव के साथ मिलकर अपने अपने ग्राम के रास्तों नालियो में लगाया जाता है ।जिससे की घरो से निकलने वाला पानी सारे रास्ते मे न फैलकर रास्ते के किनारे बनी नालियो से होकर आवादी से दूर स्थित तलाब में पहुचाया जाता है । ताकि घरो से निकलने वाला गन्दा पानी एक ही जगह इक्क्ठा न हो ,और रास्ते साफ रहे ,इस कार्य के लिए शासन द्वारा आवादी के हिसाब से लाखों रुपये दिया जाता है ।
ताकि ग्रामो में पक्की सड़के हो और वह साफ सफाई रहे ।लेकिन अभी भी कुछ ग्रामो की हालत बत्तर बनी हुई है1
इस ही एक ग्राम मुरादाबाद ब्लॉक का अक्का शाह पुर है ।
जहाँ पर अभी भी मोहल्लों में कच्चे रास्ते ही है ।
और इनमें गन्दा पानी भरा रहता है1वर्तमान में प्रधानमंत्री द्वारा साफ सफाई व प्रत्येक परदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वालों को खुले में शौच मुक्त करने का अभियान सारे देश में बड़ी तेजी से चल रहा है ।
लेकिन इस ग्राम की कहानी ग्रामीणों व रास्तो को देखते हुए कुछ और ही कह रही है ।
यह न तो रास्ते पक्के है और न ही इनके किनारे नालिया ।उल्टा प्रधानमंत्री द्वारा ग्राम को खुले में शौच मुक्त के तहत बनने वाले शौचालयों में भी ग्राम प्रधान द्वारा 2 से 3 हजार रुपये लेकर बनवाई जा रही है ।और जो पैसा नही देता उसका शौचालय नही बनवाया जाता ।
ग्रामीणों के अनुसार वह सम्बन्धित अधिकारियों को अपनी समस्याओं लिखित शिकायत भी देते रहते है ।लेकिन कोई कार्यवाही नही होती ।
अब देखना ये है कि इस खबर का सम्बन्धित अधिकारियों पर क्या प्रभाव पड़ता है । क्या इस ग्रामवासियो को भी शासन द्वारा मिलने वाली योजनाओ का लाभ कब तक मिलता है या नही ये तो आने वाला समय ही बताएगा ।

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Loading...