Published On: Tue, Jan 23rd, 2018

1983 बैच के आईपीएस ओपी सिंह ने संभाला कार्यभार, कहा- लोगों को दे पाऊंगा सुरक्षा की भावना

लम्बे इन्तजार के बाद आज उत्तर प्रदेश के नए पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने कुर्सी संभाल ली. 1983 बैच के आईपीएस ओपी सिंह इससे पहले वह सीआईएसएफ के डीजी के पद पर तैनात थे. करीब 20 दिन पहले ही प्रदेश सरकार ने केंद्र सरकार को उनको रिलीव करने का प्रस्ताव भेजा था, लेकिन केंद्र सरकार द्वारा उन्हें रविवार को रिलीव किया गया।

नए पुलिस महानिदेशक ने कहा कि सर्विस डिलीवरी को इम्प्रूव करूँगा. उन्होंने कहा कि हमारे सामने ढेर सारी चुनौतियाँ हैं. उन्होंने कहा कि आने वाले समय में उनका सामना करने के लिए हमारे पास एक बहुत ही सशक्त टीम है, मैं आने वाले समय में प्रदेश के लोगों को सुरक्षा की भावना दे पाऊंगा. उन्होंने कहा कि मैं एक बहुत अच्छे पुलिस बल का मुखिया बनाया गया हूँ ये मेरे लिए गर्व की बात है ,यूपी सबसे बड़ा राज्य है. ओपी सिंह ने कहा कि कानून व्यवस्था के मामले में हमारा राज्य अच्छी स्थित से गुजर रहा है. उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास रहेगा कि हम विश्वसनीयता बनाएं रखें. उन्होंने कहा कि क्राइम में हम रेस्पॉन्स टाइम को कम करेंगे.

ओपी सिंह ने कहा कि समाज में अपराध होते रहते हैं, हम उनपर कैसे काबू पाएं इस पर हम जोर देंगे. उन्होंने विभाग के अधिकारियों का आह्वान करते हुए कहा कि सीनियर ऑफिसर एक नए सेन्स के साथ प्रोफेशनल तरीके से काम करे. उन्होंने कहा कि जनता को रोड एक्सीडेंट से मुक्ति दिलाने का प्रयास होगा. हम रोड सेफ्टी पर ध्यान देंगे.

उन्होंने विवेचकों और अधिकारियों से विवेचना में सुधार लाने में प्रयास करने को कहा. उन्होंने कहा कि पूरे राज्य को एक सुरक्षित भावना से ओतप्रोत करेंगे. ऑफिसर्स और सरकार की मदद से काम को कारगर बनाएंगे. उन्होंने कहा कि जब क्रिमिनल फेस करते हैं तो उन्हें पकड़ना या मारना होता है, हमारे प्रयास यही रहते हैं कि उन्हें पकड़ा जाये. इसमें कई बार पुलिस ऑफिसर घायल होते हैं.

उन्होंने कहा कि पुलिस कमिश्नरी सिस्टम हों इसका हम प्रयास करेंगे. जहाँ-जहाँ जरूरत होगी हम इंटरफेयर करेंगे. पद्मावत फिल्म के मुद्दे पर ओपी सिंह ने कहा कि हम सही समय पर सही कार्रवाई करेंगे. उन्होंने कहा कि पूरी अपराध तालिका अभी मेरे पास नहीं है, जिलों में जिलाधिकारियों द्वारा बैठक लिए जाने पर इसका अध्ययन करूँगा.

ज्ञात हो कि 31 दिसंबर को यूपी पुलिस के पूर्व डीजीपी सुलखान सिंह का कार्यकाल समाप्त हो गया था. इसके बाद डीजीपी पद के लिए ओपी सिंह के नाम की घोषणा की गई थी. लेकिन केंद्र से रिलीविंग न मिलने के कारण उनकी ज्वॉइनिंग को लेकर प्रदेश में अटकलों का बाजार पिछले दिनों कुछ ज्यादा ही गर्म हो गया था. ऐसा पहली बार हुआ, जब प्रदेश के डीजीपी का पद इतने लंबे समय तक खाली रहा.

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

%d bloggers like this: