Published On: Sat, Nov 10th, 2018

राजनाथ ने दिए सीमाओं पर 13 एकीकृत चेक पोस्ट पर जल्द काम शुरू करने का निर्देश

rajnath singh india nepal bangladesh biometric card

नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने पड़ोसी देशों के साथ सीमाओं पर एकीकृत चेक पोस्ट बनाने संबंधी परियोजनाओं की प्रगति पर संतोष व्यक्त करते हुए 13 और पोस्ट बनाने का काम शुरू करने के निर्देश दिये हैं। सिंह ने एक बैठक में गृह मंत्रालय के तहत काम करने वाले भारतीय भूमि पत्तन प्राधिकरण और सीमा प्रबंधन डिवीजन की मौजूदा परियोजनाओं की समीक्षा के दौरान अधिकारियों को यह निर्देश दिया। बैठक में यह बताया गया कि एकीकृत चेक पोस्ट की पहले से स्वीकृत सात परियोजनाओं में से पांच का काम पूरा हो गया है। ये पोस्ट भारत- नेपाल सीमा पर रक्सौल तथा जोगबानी, भारत-बंगलादेश सीमा पर पेट्रोपोल और अगरतला तथा भारत-पाकिस्तान सीमा पर अटारी में बनाई गई हैं और इनसे आवागमन हो रहा है।

अंतिम चरण में है सीमा पर दावकी चेक पोस्ट का निर्माण 
भारत-म्यांमार सीमा पर मोरेह और भारत-बंगलादेश सीमा पर दावकी चेक पोस्ट का निर्माण अंतिम चरण में है। इन सभी पोस्ट के निर्माण पर 700 करोड़ रुपये से अधिक की लागत आने की संभावना है गृह मंत्री ने इन पोस्ट पर चल रहे काम की प्रगति पर संतोष जताते हुए लंबित कार्यों को जल्द पूरा करने तथा 13 अतिरिक्त स्थानों पर पोस्ट बनाने का काम शुरू करने का निर्देश अधिकारियों को दिया। ये पोस्ट हिली, जैगांव, घोजांद्रा, महादीपुर, चंग्रबंध, फुलबाड़ी, रूपैधा, कवरपुछा, पानीटंकी, सुतारकंडी, सुनौली, बनबासा, भिथमोर और पेट्रोपोल में बनाई जाएंगी।  सीमा प्रबंधन डिवीजन के तहत गुजरात में 18 तटीय चौकी बनायी जा रही हैं जबकि पंजाब और राजस्थान में फ्लड लाइट का काम किया जा रहा है। गुजरात और पश्चिम बंगाल में कुछ फ्लोटिंग पोस्ट भी मंजूर की गई हैं। तटीय सुरक्षा मजबूत बनाने के लिए 121 तटीय पुलिस स्टेशन बनाए गए हैं, 30 जेट्टी बनाई गई हैं और 18 लाख मछुआरों को बायोमेट्रिक कार्ड जारी किए गए हैं।

Loading...