Published On: Mon, Mar 26th, 2018

योगिराज में नावालिग से किया पहले कोर्ट मे र्रिज ,अब दहेज की खातिर गर्भबती को प्रताड़ित कर के दिया जाना से मार ,प्रेमी शब को सरकारी हॉस्प िटल में छोड़ कर हो गया था फरार ।।

नावालिग से किया पहले कोर्ट मैरिज ,अब दहेज की खातिर गर्भबती को दिया जान से मार शब को छोड़ कर प्रेमी हो गया था फरार ,लड़की परिजनों ने कराई नाम दर्ज एफ आई आर ।।

"क्राइम फ़्लैश"

मुरादाबाद

योगी जी ने उत्तर प्रदेश की कमान हाथ मे लेते हुये सर्ब प्रथम महिलाओ की सुरक्षा हेतु प्रदेश की पुलिस को कठोर निर्देश जारी किये थे ,ओर महिलाओ पर हो रहे अत्याचारों को रोकने के लिए एन्टी रोमियो फ़ोर्स का गठन किया था । जिसका कुछ समय तक शहरी कि क्षेत्रों में कड़ाई से कार्यवाही भी की गई थी ।
लेकिन कुछ लोग आज भी महिलाओ पर अपने जुल्म करने से बाज नही आ रहे है ।
ऐसा ही एक मामला प्रकाश में आया है ,जिसमे पहले नावालिग लड़की से फर्जी कागजो के आधार पर कोर्ट को गुमराह करके कोर्ट मैरिज कर लिया था । और अब जब वह गर्भबती हो गयी थी ,तो घर वालो से मोटी रकम ना लाकर देने की वजह से प्रताणित करके मौत के घाट उतार कर शब को छोड़कर प्रेमी फरार हो गया था।
पूरा मामला थाना छजलैट के ग्राम बीबीपुर का है । जिसमे नसीम की नवालीग पुत्री मेनाज को ग्राम का ही कमल हसन पुत्र गुफरान बहलाफुसला कर ले गया था । जिसका मुकदमा थाना छजलैट में दिनांक 18/06/2017 को 363,366 भा द स 1860 के तहत कमल हसन व फिरोज आलम पुत्र गण गुफरान के नाम दर्ज हुआ था ।
लड़के ने लड़की की जन्म तिथि को कागजो में बढ़वाकर दिल्ली के गवर्नमेंट ऑफ़ नेशनल कैपिटल टेरिटरी ऑफ़ दिल्ली में सर्टिफिकेट न0 IN-DL99841328468908P में 03/07/2017 को कराकर लड़की सहित अपने ग्राम लौट आया था ।
जब की लड़की की जन्म तिथि ग्राम के प्राथमिक बिद्यालय सलवा के रजि स0 10 के क्रम स0 78 में 03/10/2001 दर्ज थी ,।
इसके बाबजूद भी ग्राम बालो ने लड़की के परिजनों पर दवाव बनाकर धर्मानुसार 17/07/2017 को निकाह करा दिया गया था ।
कुछ दिनों ग्राम में रहने के बाद लड़के ने परिवार की शह से लड़को को लेकर कमरा लेकर मुरादाबाद के किसी मोहल्ले रहने लगा था, कुछ माह पहले लड़की ने अपने परिवार से मिलकर अपने साथ दहेज की वजह से पति व ससुराल वालो के द्वारा हो रहे उत्पीरण व गर्भबती होने की खबर दी थी।
दिनांक 22/03/2017 की रात्रि के लगभग 8 बजे ग्राम के ही बाबू ने लड़की के परिवार वालो को बताया की आपकी लड़की को जान से मार दिया है ।और उसकी लाश सिविल लाइन हॉस्पिटल में है ।
तब लड़की के बाप ने ग्राम के हाजी शरीफ,मो उमर, मो रजा, व यासीन को साथ लेकर सिबिल लाइन पहुचे ।
जहाँ से जानकारी मिली की लड़की का शब मोर्चरी में रखा है ,और जो साथ मे था वह फरार है । तो लड़की के पिता ने साथ गए ग्रामवासियो की मदद से सिविल लाइन थाने में 23/03/2018 को ऍफ़ आई र न0 0236 में 498A,304B,3,4 की धाराओं के तहत कमल हसन पुत्र गुफरान,अकबरी पत्नी गुफरान,फिरोज आलम पुत्र गुफरान,रियासत पुत्र छुटू,कय्यूम पुत्र बाबू,महरुल निशा पत्नी कय्यूम के नाम दर्ज करके
पुलिस ने शब का पोस्मार्टम कराकर शब को लड़की के परिजनों के हवाले कर दिया था , जिसका लड़की के परिवार वालो ने अपने ग्राम में लाकर 24/03/2017 को अपने धर्मानुसार दफना दिया ।
इधर लड़की के परिवार वालो का कहना है कि आज तीन होने के बाद भी पुलिस ने अभी तक ग्राम में जाकर कोई दबिश कार्यवाही नही की है ।
अब देखना ये है ।कि पुलिस नाम दर्ज आरोपियों कब तक पकड़ती है ।और ज़िले के नबनियुक्त कप्तान महोदय इस पीड़ित परिवार की किस तरह इंसाफ दिलाते है, या ये यू ही इंसाफ के लिये भटकते रहेगे, और मुलजिम खुलेआम घूमते रहे ये तो आने वाले समय ही बताएगा ।

About the Author

Leave a comment

You must be Logged in to post comment.